Breaking News:

योगी आदित्यनाथ के पहुंचने से पहले मुख्यमंत्री आवास का किया गया शुद्धिकरण

नई दिल्ली : योगी आदित्यनाथ ने यूपी के मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी संभाल ली है। रविवार को उनके शपथ ग्रहण के बाद लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास में हलचल तेज हो गई है। ऐसे में योगी आदित्यनाथ के पहुंचने से पहले मुख्यमंत्री आवास का शुद्धिकरण किया गया। जानकारी के मुताबिक, सीएम हाउस के गेट की सफेद रंग से पुताई पहेल ही हो चुकी है।

पूजा और रुद्राभिषेक के लिए विशेष रूप से गोरखपुर से सात पुरोहितों की एक टीम सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे के आसपास सरकारी आवास पहुंच गई। पुरोहितों ने पहले आवास के हर कमरे और परिसर का मुआयना किया और वास्तु के हिसाब से पूजा के लिए जगह तय की। यह पूजा करीब तीन घंटे तक हई। पूजा के दौरान गंगाजल, गौमूत्र और तमाम पूजा सामग्री से हवन और शुद्धीकरण किया गया।

पंडितों ने मंत्रोच्चार के साथ यहां स्वास्तिक बनाया। दिलचस्प बता ये कि पहले नेम प्लेट पर योगी आदित्यनाथ लिखा गया था लेकिन बाद में उसे बदलकर आदित्यनाथ योगी लिखा गया। बताया जा रहा है कि इस सरकारी आवास के अंदर एक मंदिर भी बनाया जाएगा, अभी वह वीवीआईपी गेस्ट हाउस में रुके हुए हैं। माना जा रहा है कि पूजा, हवन और शुद्धीकरण के बाद भी योगी फौरन सरकारी आवास में शिफ्ट नहीं होंगे।

इसके लिए कोई शुभ दिन तय किया जाएगा जिसके बाद मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास में ग्रह प्रवेश करेंगे। ऐसे में आदित्यनाथ के करीबियों का कहना है कि अगर शुरुआत पूजा-पाठ से होगी तो कल्याण सबका होगा। गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ अब सिर्फ गोरखनाथ मठ के महंत ही नहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी हैं। इसके अलावा वे गोरखपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद भी हैं। यह शायद पहला मौका है, जब किसी धार्मिक स्थल का प्रमुख किसी राज्य का मुख्यमंत्री भी है। 

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW