Breaking News:

मुख्यमंत्री की सभा में आये लोग मुख्यमंत्री के ही खिलाफ बैठ गये धरने पर.. क्योंकि नहीं मिले थे पैसे


लोकसभा चुनावों में अपने उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने के लिए हर राजनैतिक दल जी जान से जुटा दिया है. कहीं नुक्कड़ सभाओं के माध्यम से लोगों से जुड़ने की कोशिश की जा रही है तो कहीं विशाल जनसभाओं के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों तक अपनी बात पहुँचाने की कोशिश राजनैतिक दल कर रहे हैं. लेकिन इस बीच एक ये भी सत्य सामने आया है कि सभा में भीड़ जुटाने के लिए लोगों को पैसे देकर भी बुलाया जा रहा है.

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा: संघ संस्थापक डॉ हेडगेवार जी की जन्मजयंती.. वो महान व्यक्तित्व जिनकी जंग गुलामी के साथ आज़ादी के नकली ठेकेदारों से भी हुई

पैसे देकर सभा में भीड़ जुटाने का मामला तब सामने आया जब तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की जनसभा में आये लोग धरने पर बैठ गये. लोगों का कहना था कि उन्हें कहा गया था कि सभा में चलो, पैसे मिलेंगे..लेकिन उन्हें पैसे नहीं दिए गये. मीडिया सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक़, तेलंगाना के खम्माम जिले में गुरुवार को मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव की जनसभा आयोजित की गई थी. रैली को सफल बनाने के लिए पार्टी नेता जिले के विभिन्न हिस्सों से लोगों को गाड़ियों भरकर लाए थे. रैली में शामिल होने वाले लोगों का आरोप है कि उन्हें इसके लिए भुगतान करने को कहा गया था.

सुंदरगढ़ में पीएम मोदी का जीत का दावा कहा- देश में फिर पूर्ण बहुमत से BJP की सरकार बनने जा रही है….

प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि उन्हें पैसे देकर रैली में शामिल होने के लिए बुलाया गया, लेकिन उनसे किया गया वादा पूरा नहीं किया गया जिसके बाद वे बीच सड़क पर धरना-प्रदर्शन करने लगे. रैली में शामिल होने आए कई लोगों ने आरोप लगाया कि जनसभा में हिस्सा लेने के बदले नेताओं ने उन्हें पैसे देने की बात कही थी, लेकिन इन नेताओं ने अपना वादा पूरा नहीं किया. इसलिए इन नेताओं को सबक सिखाने के लिए लोगों सड़कों पर बैठकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं.

हिन्दू नववर्ष के सुआगमन तथा चैत्र नवरात्रि पर श्री सुरेश चव्हाणके जी की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं एवं समस्त सनातनियों को शुभ सन्देश


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share