पंजाब में हिन्दुओं के कत्ल पर आमादा खालिस्तानी अब पहुचेंगे अपने असल अंजाम को क्योंकि अब उनका हिसाब करेगी NIA


कांग्रेस शासित पंजाब को भी वामपंथी केरल की तरह हिन्दू नेताओं के खून से रंगने की बड़ी साजिश रची जा रही है. जिसके चलते कई हिन्दू नेताओं के कत्ल किए

जा चुके है. जिसके पीछे खालिस्तान की माँग करने वाले संगठन से जुड़े लोगो का नाम सामने आया था जिसमे से एक शेरा नाम का शार्प शूटर भी है. जिसने यह

बात कबूली थी. साथ ही हिन्दू नेता की कत्ल की साजिश के तार विदेश तक जुड़े हुए सामने आये है. जिसके बाद एनआईए टीम पंजाब पहुँच चुकी है ये पता

लगाने के लिए कि आखिर कौन है जो हिन्दू नेताओं के कत्लेआम कर रहा है. आखिर वे कौन है जिन्हें हिन्दू नेताओं से इतनी नफरत है.

दरअसल पंजाब के लुधियाना में बस्ती जोधेवाल की गगनदीप कालोनी में रहने वाले आरएसएस नेता रविंदर गोसाई की सुबह घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर

दी गयी थी. इसी हत्या की जांच पड़ताल के लिए NIA लुधियाना पहुँच चुकी है.

एनआईए की टीम शनिवार को रविंदर गोसाई के घर पहुंची। टीम ने घटनास्थल का

जायजा लेने के बाद परिजनों से भी बात की साथ ही आसपास के लोगों से बातचीत की। उसके बाद टीम के सदस्य गलियों में घूमे तथा हत्या के बाद पुलिस को

जो सीसीटीवी फुटेज मिले थे, उन कैमरों की जांच की। उसके बाद टीम आरएसएस के शाखा स्थल (आमंत्रण कालोनी) पर भी गई और वहां कार्यकर्ताओं से बात कर

करीब एक घंटे बाद टीम वापस लौटी। टीम ने मौके की वीडियोग्राफी भी की।
टीम के साथ स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम के सदस्य भी मौजूद थे। महानगर की पुलिस के अधिकारियों ने एनआईए की टीम को सारी जानकारी उपलब्ध करवाई।

एनआईए की टीम के आने से पहले इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिए गए थे। आरएसएस नेता रविंदर गोसाई के परिजनों को भी इस बारे में जानकारी दे दी

गई।

निरीक्षण और जांच के दौरान एनआईए की टीम कड़े सुरक्षा घेरे में रही।

साथ ही पंजाब में सात हत्याओं के मामले में गिरफ्तार एनआरआई जगतार सिंह जौहल को महानगर की पुुलिस शुक्रवार रात मोगा से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर

आई है। पुलिस ने उसे अदालत में पेशकर दो दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया है। जिससे टीम के सदस्यों ने भी पूछताछ की। एनआईए की टीम आरोपी

जगतार जौहल से पूछताछ कर सारी जानकारी जुटा रही है कि विदेशों में कौन सी ताकते उनसे यह काम करवा रही है।
NIA जल्द ही इस बात का पता लगा लेगी कि आखिर क्यों हिन्दू नेता के कत्लेआम किए जा रहे है. लेकिन सवाल यहाँ पर यह भी उठता है कि आखिर हिन्दू

नेताओं से ये कसी प्रकार की नफरत है जो विदेशो तक फैली हुई है.

आखिर हिन्दुओं ने किसी का क्या बिगाड़ा. जो उन्हें इस तरह से मारा जा रहा है. क्या केरल

अपनी वामपंथी विचारधारा पंजाब में भी फ़ैलाने की कोशिश कर रहा है ? क्योंकि वामपंथ हमेशा से हिन्दू की मान्यताओं और उनके विचारो का विरोध कर मूह बंद

करवाने की कोशिश करता रहा है. जिसके परिणाम स्वरुप केरल में अब तक कई हिन्दू नेताओं को मौ के घाट उतरा जा चुका है और उसपर केरल सरकार भी सख्त

कार्यवाही करने से परहेज़ करती आई है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share