मुजफ्फरंनगर- सूलिवाला बाग़ में हुआ ध्वजारोहण का विशाल कार्यक्रम” सूलिवाला बाग को शहीद स्थल घोषित करने की उठी मांग

मुजफ्फरंनगर/उत्तर प्रदेश

मुजफ्फरंनगर जनपद का पुरकाजी कसबा 1857 में हुई आज़ादी की लड़ाई में सूलीवाला बाग वीरजवानो के बलिदान के लिए जाना जाता है।पुरकाजी के वर्तमान चेयरमैन के नेतृत्व में हजारों लोगो ने सूली वाले बाग़ पर ध्वजारोहण किया,इससे पहले रोडवेज परिसर से विशाल भीड़ देश भक्ति के नारे ,डीजे ,ढोल नगाड़ों के साथ जीटी रोड से होती सूली वाले बाग़ पर पहुची।

सन,1857 में इसी सूलिवाले बाग में आज़ादी की जंग के लिए हजारो लोगो ने अपनी जान गवाई थी, वर्षो से इस पवित्र स्थल को शहीद स्थल घोषित करने की मांग उठती रही  है आज 2019 में एक बार ये मांग जोर शोर  से उठी है
स्वतंत्रता और गणतंत्र दिवस के मौके पर पुरकाजी चेयरमैन और भाकियू के प्रदेश महासचिव ज़हीर फारूकी एडवोकेट हजारो लोगो की साथ सूली वाले बाग़ और ध्वजारोहण करते हे और सूली वाले बाग़ को को शहीद स्थल घोषित करने की मांग करते रहे है।
चेयरमैन ज़हीर फारूकी ने पत्रकारों से कहा की अधिकारी AC कमरों में बैठे रहते है, वे बाहर निकलकर इस जगह का इतिहास पढ़ना और समंझना नही चाहते है,अफसर रोजाना टाइम पास कर रहे हे,जनता की अनसुनी कर रहे हे ,जिस दिन जनता सड़क पर जाम लगा देगी,उस दिन वे सुनने को मजबूर हो जायेगे,सूली वाले बाग़ को शहीद स्थल बनाना पड़ेगा,ये भारतीय किसान यूनियन का अहम मुददा है।

हालाकी इस बार दो गुटों के ध्वजारोहण पर भारी भीड़ की आंशका के चलते BSF, PAC सहित कई थानों की फोर्स के साथ जगह जगह मौजूद रही। और SP सिटी सतपाल आंतिल,ADM प्रशासन अमित कुमार,CO सदर धनंजय कुशवाहा,खुफिया विभाग अधिकारी,क्राईम ब्रांच सुरक्षा व्यवस्था पर नज़र बनाये रहे। और कार्यक्रम पुर्णतय सफल हुआ

रिपोर्ट

समर ठाकुर

वेब जर्नलिस्ट/मुज़फ्फरनगर जनपद

मोब-9368004900

 

Share This Post