एक मंच पर दिखे उत्तर प्रदेश के २ बड़े हिंदुत्व ब्रांड. तेज हुई राजनैतिक चर्चाएँ

उत्तर प्रदेश सरकार के बाद प्रदेश की चर्चित हिंदुत्ववादी शक्तियों का एक जगह एक मच पर जमा होना शुरू हो गया है . इस क्रम में आज उत्तर प्रदेश के हिंदुत्व की सबसे बड़ी 2 धुरी जब एक साथ दिखी तो राजनैतिक गलियारों में हलचल मच गयी .

इनमे से एक हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ और दूसरे हैं उत्तर प्रदेश के सबसे कद्दावर नेताओं में से के रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ राजा भैया . इन दोनों को उत्तर प्रदेश के भगवा चेहरों का अगुआ माना जाता है . लखनऊ विधानसभा के सेन्ट्रल हाल में पूर्व प्रधानमंत्री श्री चंद्रशेखर जी की जयंती का अवसर था. इस कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ जी और राजा भैया ना सिर्फ एक ही मंच पर दिखे बल्कि दोनों एक दूसरे के बगल खड़े रहे .. इस कार्यक्रम से निकल कर आये समीकरण ने उत्तर प्रदेश में एक नयी राजनैतिक चर्चा छेड़ दी है .

इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री की 91 वी जयंती पर उनके जीवन पर लिखी एक पुस्तक का विमोचन किया गया . इस पूरे कार्यक्रम में दोनों एक दूसरे के साथ ही ज्यादा तर दिखे हैं . चुनाव पूर्व भी राजनैतिक गलियारों में चर्चा रही थी की राजा भैया एक बड़ी लॉबी ले कर भाजपा में शामिल हो सकते हैं जो बाद में निर्मूल और निराधार साबित हुई . फ़िलहाल चुनाव बाद इस आयोजन में दोनों का साथ आना किसी नए राजनैतिक समीकरण की आहत हो सकती है . 

Share This Post