अनाथ भाई-बहन ने पुराने नोट जमा करने के लिए पीएम मोदी को पत्र लिखकर लगाई मदद की गुहार

कोटा : राजस्थान के कोटा के रहने वाले दो बच्चों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे मदद की गुहार लगाई है। बच्चों ने दिवंगत मां द्वारा छोड़े गये 96,500 रुपये के पुराने नोटों को बदलने का कोई रास्ता नहीं पाकर पीएम मोदी को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है।

दरअसल, कोटो के रहने वाले इन दोनों भाई बहनों की दिवंगत मां उन दोनों के लिए बंद हो चुके 500 और हजार के करीब 96,500 रुपये छोड़ गई थी। लेकिन जब बच्चों को पता चला कि जब नोट बदलने की अंतिम तारीख निकल चुकी है तो इन दोनों बच्चों से मदद की गुहार लगाई।

बच्चों ने पत्र में लिखा है कि उनकी मां ने मेहनत मजदूरी कर उनके लिए जो पुराने नोट जमा किए थे, उन्हें नोटबंदी की मार से बचा लो। जानकारी के मुताबिक, सूरज और सलोनी नाम के इन दोनों बच्चों के पिता की हाल ही में मौत हो गई है जबकि चार साल पहले मां की हत्या हो चुकी है। दोनों एक संस्था में रहकर गुजारा कर रहे हैं।

बाल कल्याण समिति (CWC) के अध्यक्ष हरीश गुरुबक्षाणी ने बताया कि RBI के इन पुराने बैंक नोटों को बदलने से इनकार करने के बाद बच्चों ने शनिवार को प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इन्हें बदलने की व्यवस्था करने का अनुरोध किया है। 96,500 रुपये की यह रकम उनकी मां की जीवन भर की बचत है। उन्होंने बताया कि भाई इस रकम को अपनी बहन के नाम पर फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) कराना चाहता है।

Share This Post