CRPF जवान शिवराज सिंह राठौड़ ने किया ऐसा काम कि स्वतः ही मुंह से निकलेगा जय हिन्द की सेना…..जानिए क्या नई मिशाल पेश की है वीर शिवराज ने

भारतीय सेना के जवान सिर्फ देश की सीमाओं की ही सुरक्षा नहीं करते हैं बल्कि देश का हर नागरिक हम सब अगर ख़ुशी से चैन से रह पाते हैं तो ये सब इन्हीं सेना के जवानों की बहादुरी व हिम्मत की बजह से है. इसके अलावा हमारे एक सैनिक ने समाज के लिए एक ऐसी मिसाल पेश की है जिसकी जितनी तारीफ़ की जाये वो कम ही होगी. हम हमेशा देश के दुश्मनों के छक्के छुड़ाने के लिए अपने देश के जवानों को सेल्यूट करते हैं लेकिन इस सैनिक ने जो किया है उससे एक बार फिर यही शब्द मुंह से निकलते हैं कि “जय हिन्द की सेना”.

दहेज़ कम मिलने के कारण बारात वापस लौटने की खबरें आपने कई बार सुनी होंगी लेकिन दहेज़ में मिले लाखों रूपये वापस लौटाने की खबर शायद ही कभी सुनी हो. लेकिन एसा हुआ है व ऐसा करके समाज में एक नई मिशाल पेश की है सीआरपीएफ के जवान शिवराज सिंह राठौड़ ने. बीस फरवरी को सेना के जांबाज सिपाही CRPF के जवान शिवराज सिहं की शादी थी. शिवराज सिंह को शुगन में 5,51,000 रुपए मिले थे, लेकिन शिवराज सिंह ने दहेज प्रथा बंद करने की बात करते हुए इसकी शुरुआत खुद से की तथा सारे पैसे अपने ससुर को वापस कर दिए.

शिवराज सिंह ने शगुन के तौर पर सिर्फ 101 रुपए और 1 नारियल लिया. शिवराज सिंह राठौड़ राजस्थान के कोनियाड़ा के चांपावत के रहने वाले हैं. शिवराज के पिता ओम प्रकाश राठौड़ ने अपने बेटे की शादी बरडवा नागौर के शेखावत परिवार में रणजीत सिंह शेखावत की बेटी मिथलेश कंवर शेखावत से कराई थी. अगर देश का युवा दहेज़ के खिलाफ वीर सैनिक शिवराज सिंह की तरह आगे आये तो निश्चित ही दहेज़ की समस्या समाज से दूर की जा सकेगी. जो कार्य शिवराज ने किया है वही कार्य अगर सारे युवा करने लगे तो न तो दहेज़ के कारण हमारी बहिनों की हत्या होगी और न इससे समाज तथा देश की बदनामी होगी

जवान शिवराज सिंह तथा उनके परिवार ने इस पैसे को लेने के बजाए कहा कि इस रकम को समाज सेवा में खर्च कर दिया जाये या किसी गरीब कन्या की शादी इन रुपयों से कर दी जाये ताकि उसका जीवन खुशहाल हो सके. शिवराज ने अपनी शादी में शामिल हुए समस्त परिजनों, रिश्तेदारों, सगे संबधियों तथा मित्रों से अपील की कि दहेज जैसी इस भयावह कुप्रथा को रोका जाए तथा इस पैसे को समाज के गरीब बच्चों की शिक्षा पर खर्च किया जाये जिससे देश में सामाजिक असमानता कम हो तथा सभी लोग ख़ुशी से रह सकें. हमें अपनी समस्याओं का हल खुद निकालना होगा तभी हमारा देश विकास कर सकेगा उन्नति के पथ पर आगे बढेगा. जवान शिवराज सिंह राठोड़ 3 साल से देश की सेवा कर रहे हैं, उन्होंने 3 साल पहले ही सीआरपीएफ में नौकरी शुरू की थी. अभी वह हैदराबाद में तैनात हैं. भारत माता के सच्चे सपूत शिवराज सिंह को सुदर्शन चैनल नमन वन्दन करता है.

Share This Post