बलात्कार करने के लिए अहमद चुनता था एक मंदिर.. फिर चीखें गूंजती थी भगवान के आगे


शायद इससे बड़ी शर्मशार करने वाली तथा नारी स्वाभिमान को कुचलने वाली घटना आपने नहीं सुनी होगी. कुतुबुद्दीन अहमद को सीरियल रेपिस्ट कहा जाए तो गलत नहीं होगा लेकिन इससे भी बड़ी बात ये थी कि वह बलात्कार के लिए हिन्दुओं के पूज्यनीय उस ऐतिहासिक मंदिर को चुनता था तो लगभग 1000 वर्ष पुराना है. वह बच्चियों को मंदिर में ले जाता था फिर वहां वह अपनी हवस मिटाता था.

मामला पूर्वोत्तर के राज्य असम के ढेकियाजुली का है जहाँ के एक मंदिर में एक लड़की के साथ बलात्कार की घटना सामने आई है. यह घटना बुधवार (14 अगस्त) को ढेकुकुली के सिंगोरी क्षेत्र में विश्वकर्मा मंदिर के परिसर में हुई. आरोपित कुतुबुद्दीन अहमद को पुलिस ने पकड़ लिया है.  खबर के मुताबिक़, कुतुबुद्दीन पास के मिसामारी के एराबारी से लड़की को किसी बहाने से प्राचीन मंदिर के परिसर में लाया, वहाँ उसने उसे कुछ नशीली दवा खिला दी और फिर कई बार उसका बलात्कार किया.

गे बीच कुतुबुद्दीन की इस हरक़त को मंदिर परिसर की देखरेख करने वालों ने दो लोगों ने देख लिया. उन्होंने कुतुबुद्दीन को पकड़ लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया. देखरेख करने वालों ने कुतुबुद्दीन की इस शर्मनाक़ हरक़त को सबूत के तौर पर रिकॉर्ड भी किया है. पीड़िता ने भी पुलिस को घटना की पूरी जानकारी देत हुए आरोपित के ख़िलाफ़ शिक़ायत दर्ज कराई है. FIR के आधार पर, कुतुबुद्दीन अहमद को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है और मामले की जाँच शुरू कर दी है. ये भी जानकारी मिली है कि कुतुबुद्दीन अहमद इससे पहले भी कई बार  मंदिर में हैवानियत को अंजाम दे चुका है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...