गुंगी बेटी चीख ना सकी और अंधा पिता देख ना सका. दहल गई इंसानियत भी बलात्कारी शाहरूख के पाप से

जिस भारत देश में महिलाओं को देवी का दर्जा दिया जाता है उसी देश में कुछ ऐसे दरिंदे भी है जिनके कारण हमारे देश की महिलाये अपने घरों में भी सुरक्षित नहीं हैं। एक बार फिर एक शर्मनाक घटना सामने आयी है, जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। खबर के मुताबिक़, एक विशेष समुदाय के व्यक्ति ने एक मूकबाधिर 16 वर्षीय लड़की के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी सहारूल इस्लाम अब्दुल वाहीद लस्कर ऊर्फ शाहरूख ने एक 16 वर्षीय लड़की के पिता का अंधेपन का फायदा उठाकर मूकबाधिर लड़की के साथ लगातार बलात्कार किया। यह शर्मसार करने वाली घटना पुणे के कोथरूड में घटी। 
इस मामले में पुलिस ने 26 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार किया है। पीड़ित लड़की अपने पिता के साथ कोथरूड के झोपड़पट्टी इलाके में रहती है। उसके पास ही गैरेज की दुकान में आरोपी काम करता था। आरोपी की 16 वर्षीय मूकबाधिर लड़की पर हमेशा से नजर थी। आरोपी को पता था कि लड़की के पिता अंधे हैं और कोई काम नहीं करते हैं। इस बात का फायदा उठाकर आरोपी ने लड़की को पैसे देने के बहाने गैरेज में बुलाया और उसके साथ बलात्कार किया। यह सिलसिला महीनों तक चलता रहा। यह मामला तब सामने आया जब लड़की गर्भवती हो गई।
लड़की के गर्भवती होने के बाद लड़की के पिता ने तुरंत डॉक्टर से संपर्क किया और डॉक्टर ने लड़की से इस बारे में पूछताछ कि वो गर्भवती कैसे हुई? तब अपनी मूक भाषा में लड़की ने सारी हकीकत बयां कर दी। लड़की के पिता इस बात से अनजान ही रहते अगर उसकी मूकबाधिर बेटी की गर्भवती होने की बात सामने नहीं आती, जैसे ही पिता को पता चला कि उसकी बेटी के साथ धोखे और लालच देकर बलात्कार किया गया है तो पिता ने तुरंत पुलिस को सूचना देकर रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसके बाद पुलिस ने तुरंत आरोपी सहारूल इस्लाम अब्दुल वाहीद लस्कर ऊर्फ शाहरूख को गिरफ्तार किया। 
Share This Post