अब बाराबंकी में रंजीत की 8 साल की बेटी बनी सलीम की हवस का शिकार. प्रार्थना करें उस मासूम के लिए जिसकी हालत है गम्भीर

एक तरफ अभी भी अलीगढ़ में उस परिवार से रह रह कर चीत्कार उठ रही हैं जहाँ एक 3 साल की मासूम को दरिंदगी से जिस अंदाज़ में मारा गया है उसने जल्लादों को भी पिछाड दिया है तो वहीँ उन बातों का ज़रा सा भी असर उनके ऊपर नहीं हुआ है जिन्होंने निशाने पर ले रखा है मासूम बच्चियों को और वो भी एक वर्ग की .. अलीगढ में जो नृशंसता दिखाई गयी है उसके ऊपर अभी तक बॉलीवुड के कुछ बड़े ट्विटर एक्सपर्ट खामोश है कि अचानक बाराबंकी में एक और बच्ची बन गई है हवस की शिकार ..

अब तक “जय श्रीराम” पर था बवाल.. अब जैसे ही उड़ा भगवा अबीर वैसे ही बरसना शुरू हो गया कहर.. ये सेक्यूलर भारत के एक प्रदेश का हाल

विदित हो कि इंसानियत को शर्मशार करता ये मामला  बाराबंकी के थाना टिकैतनगर के मोहल्ला राय साहब का है। बताया जा रहा है कि यहां के निवासी सलीम पुत्र हबीब ने पड़ोस के रहने वाले रंजीत मौर्य के घर के सभी बच्चो को बाग घूमने के बहाने अपनी गाड़ी में बिठा लिया। वहीं घर की महिलाओं ने सलीम से बच्चों को बाग न ले जाकर घुमाने की बात कही। लेकिन सलीम ने महिलाओं को बहला-फुसलाकर कहा कि बच्चों को बाग में घुमाकर यही छोड़ देंगा।

ममता राज में कमरुल जमाल बिजली चेक करने के बहाने घुसता था घरों में और बलात्कार के बाद डाल देता था महिलाओं के गुप्तांगों में रॉड

कुछ देर बाद आरोपी सलीम रंजीत की 8 वर्षीय पुत्री को बाग में ही छोड़कर बाकी बच्चों को घर छोड़ गया। इसके बाद आरोपी दोबारा  बाग में गया और यहां उसने  रंजीत मौर्य की 8 वर्षीय पुत्री को अपनी हवस का शिकार बनाया।इधर मासूम दर्द से कराहते हुए घर पहुंची और अपनी मां को पूरी बात बताई। वहीं खून से लथपथ बच्ची को देखकर पूरा परिवार सन्न रह गया। इसके बाद पीड़ित बच्ची के परिजनों ने आरोपी सलीम को पकड़ लिया और टिकैतनगर थाने में भी सूचना दे दी।

दरिन्दे अकबर को कुकर्मी बताया भाजपा नेता ने तो भडक उठी कांग्रेस.. वो नेता भी भडके जो हिन्दू देवी देवताओं के अपमान पर रहते हैं खामोश

वहीं सूचना मिलते ही टिकैतनगर  थाना प्रभारी दुर्गेश मिश्रा ने मामले को संज्ञान में लेते हुए रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी सलीम को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही मासूम को तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया। अलीगढ की घटना के बाद अब बाराबंकी की इस नृशंसता ने आम जनमानस को हिला कर रख दिया है . .समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों ने मामला गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। बता दे कि अभी मासूम की हालत नाजुक बनी हुई है। वही आरोपी के ऊपर  धारा 376 व पाक्सो एक्ट लगाते हुए जेल भेज दिया गया है।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं-


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share