80 साल की वृद्धा को भी नहीं छोड़ा चाँद ने.. हवस की आंधी में अब बच्चियों के बाद वृद्धाएं भी


आखिर वो कौन सी सोच है जो महिलाओं के खिलाफ अपनी व्यभिचारी सोच को बदलने का नाम नहीं ले रही है. केंद्र सरकार, राज्य सरकार तथा पुलिस प्रशासन के तमाम दावों के बाद भी वो कौन सी सोच है जो महिलाओं को, बच्चियों को अपनी हवस का शिकार बना रही है? जब एक व्यक्ति जिसको जन्म ही महिला देती है, इसके बाद भी आखिर वह किसी महिला के साथ दुष्कर्म कर कैसे लेता है? ये जानते हुए भी कि उसके घर में भी बहन है बेटी है, फिर भी दूसरों की बहन-बेटियों को हवस का शिकार कैसे बना लेता है? सवाल ये भी है कि आखिर ये जब कहाँ से आती है जिसमें इंसान जानवर से भी नीचे गिरकर हैवान बन जाता है ?

ऐसी ही दुराचारी सोच का शिकार बिहार के मधुबनी जिले के अंधराठाढ़ी थाना अंतर्गत जमैला गाँव की 80 वर्षीय वृद्धा हुई है जिसके साथ मोहम्मद अहमद उर्फ चांद ने बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. हैरान करने वाली बात ये है कि बलात्कारी चाँद नाबालिग है जिसकी उम्र मात्र 15 साल है. जब चाँद वृद्धा के साथ दुष्कर्म कर रहा था तो ग्रामीणों ने देख लिया तथा की पिटाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस अधीक्षक सत्यप्रकाश ने गुरुवार को बताया कि पीड़िता की मेडिकल जांच जिला सदर अस्पताल में करायी गयी है.

दीपावली पर जगमगाई थी अयोध्या, अब जन्माष्टमी में चमकेगी मथुरा.. योगीराज में धर्म का अभूतपूर्व सम्मान

बताया गया है कि हैवान दरिन्दे चाँद ने स वारदात को उस समय अंजाम दिया जब वृद्ध महिला अपने घर में सो रही थी और विरोध करने पर आरोपी ने वृद्ध महिला को जान से मारने की धमकी दी. वारदात के बाद महिला द्वारा शोर मचाने पर परिजनों एवं ग्रामीणों ने आरोपी लड़के की पिटाई करने के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...