Breaking News:

मासूम बच्चों के साथ कुकर्म का अड्डा बन गया था मदरसा.. मौलवी पर लगा पॉस्को एक्ट और रिहा हुए मासूम

राजस्थान के अजमेर में नाबालिग बच्चों के साथ कुकर्म करने वाले मदरसे के मौलवी को गिरफ्तार किया गया है. मेवाड़ी गेट पर स्थित एक मदरसे के मौलवी ने मदरसे को कुकर्म का अड्डा बना रखा था. कहने को तो मौलवी बच्चों को दीन की तालीम देता था लेकिन दीन की तालीम की आड़ में  नाबालिग  बच्चों के साथ अपनी हवस मिटाता था तथा मासूमों के बचपन को तबाह कर रहा था. कुछ बच्चों ने यौन शोषण के आरोप लगाए थे. बच्चों की शिकायत पर पुलिस ने जांच के बाद मौलवी आलम को गिरफ्तार कर पॉक्सो एक्ट (POCSO) के तहत कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

ब्यावर सिटी सीआई रवींद्र के अनुसार, मामला तीन महीने पुराना ब्यावर के एक मदरसे से जुड़ा हुआ है. सीआई रवींद्र के मुताबिक़, वहां हरियाणा पलवल के रहने वाले मौलवी आलम पर वहां के पढ़ने वाले बच्चों के साथ गलत हरकते करने और यौन शोषण करने के आरोप लगे थे. मौलवी की हरकतों से परेशान बच्चों ने इसकी शिकायत चाइल्ड लाइन संस्था को दी. इस शिकायत के बाद मामले में जिला प्रशासन की ओर से एक कमेटी गठित की गई.

हालांकि कमेटी की जांच के बाद भी मौलवी पकोई कार्रवाई नहीं की गई थी. इसके बाद मामला जब मीडिया के जरिए सामने आया तो पुलिस ने 10 जनवरी को मौलवी के खिलाफ मामला दर्ज किया. मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने मंगलवार को मौलवी आलम को गिरफ्तार कर उसे पॉक्सो कोर्ट संख्या 2 में पेश किया. कोर्ट ने 19 फरवरी तक मौलवी को जेल भेज दिया.

Share This Post