घर के अंदर चल रही थी वो प्रार्थना जिसके बाद वो बन जाते ईसाई.. अचानक बरसने लगी ईंट और होने लगी पत्थरबाजी

सनातन विरोधी ताकतें किस तरह सनातन को कमजोर करने के नापाक प्रयास कर रही है, इसकी बानगी बिहार के सहरसा में देखने को मिली जहाँ प्रार्थना सभा के बहाने लोगों के धर्मान्तरण का प्रयास किया गया. लोगों को लालच देकर उन्हें हिन्दू से ईसाई बनाने का प्रयास किया जा रहा था. सूचना मिलने पर हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे तथा धर्मान्तरण को रोकते हुए हंगामा शुरू कर दिया. इसके बाद वहां की स्थिति तनावग्रस्त हो गई तथा पत्थरबाजी भी हुई.

ईसाई मिशनरियों द्वारा हिन्दुओं के धर्मान्तरण का ये मामला बिहार के सहरसा शहर के वार्ड संख्या 27 शारदा नगर मुहल्ले का है. खबर के मुताबिक़, शारदा नगर मुहल्ले के एक किराए के घर में ईसाई धर्मावलंबी द्वारा प्रार्थना सभा के बहाने धर्मान्तरण का प्रयास किया जा रहा था. इसी दौरान सूचना मिलने पर हिन्दू संगठन के लोगों ने विरोध जताते हुए जमकर ईंट पत्थर बरसाना शुरू कर दिया. विरोध जता रहे लोगों का कहना था कि इस घर में अन्य समुदाय के लोगों को बहला फुसलाकर ईसाई बनाया जा रहा है.

घटना की जानकारी मिलते ही एसपी राकेश कुमार, एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच मामले को शांत कराया. घटना के संबध में बताया जाता है कि रविवार की सुबह चरण सिंह साह के भाड़े के दो मंजिले मकान में दर्जनों की संख्या में महिलाएं और बच्चे प्रार्थना कर रहे थे। इसकी जानकारी कुछ लोगों को मिली और वे सभी मौके पर पहुंचकर हंगामा करने लगे. पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने कहा कि घटनास्थल पर सुरक्षा के लिए पुलिस को गश्त करने का निर्देश दिया गया है. उन्होंने कहा कि धर्मान्तरण की बात कही जा रही है लेकिन लोगों का कहना है कि वह  प्रार्थना कर रहे थे. एसएसपी ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW