छेड़छाड़ का विरोध किया लड़की ने तो घर में घुस आये हैवान तथा फांसी पर लटका दिया लड़की को, हुई मौत.. घटना योगीराज की


आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश से महिला सुरक्षा से 2 ऐसी वारदातें सामने आई हैं, जिसने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. सबसे पहले खबर आई कि राज्य के उन्नाव में एक रीप पीड़िता को ज़िंदा जला दिया गया है, जिसके बाद पूरा देश उबल पड़ा तो वहीं अब एक और ऐसी ही दिल दहला देने वाली खबर राज्य के मैनपुरी जिले से सामने आई है जहाँ एक युवती को हैवान दरिंदों ने इसलिए फांसी पर जबरन लटकाकर मार डाला क्योंकि उसने छेड़खानी का विरोध किया था.

मामला मैनपुरी के घिरोर कस्बे का है. मृतका युवती छात्रा है. मृतक छात्रा के परिजनों का कहना है कि चार दिसंबर को उनकी बेटी गांव के पास के स्कूल में पढ़ने गई थी. जहां स्कूल के ही कुछ लड़कों ने उसके साथ छेड़छाड़ की. स्कूल से लौटने पर पीड़िता ने छेड़छाड़ की जानकारी अपने परिवारवालों को दी. इसकी जानकारी जब उसके भाई को लगी तो उसने आरोपियों से बात की. इस दौरान हाथापाई भी हो गई. लेकिन उस वक्त गांववालों ने हस्तक्षेप करते हुए मामले को निपटा दिया.

इसके बाद अगले दिन 5 दिसंबर गुरुवार सुबह कार में सवार होकर चार युवक उनके घर में घुस आए. छात्रा को अकेला पाकर चारों युवकों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी. फिर घर में ही उसे फांसी से लटका दिया, जिससे उसकी मौत हो गई. इस दौरान हो-हल्ला सुनकर वहां गांववाले आ गए. छात्रा की मौत होने पर ग्रामीणों ने तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा शुरू कर दिया. सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुँच गई.

पुलिस ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही वो गांव में पहुंच गई थी. छात्रा को फंदे से उतारकर उसके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया. उसके बाद गांववालों से घटना की जानकारी ली गई. मृतक छात्रा के परिजनों ने कुछ युवकों को नामजद किया है. नामजद युवकों में से मुख्य आरोपी सहित दो युवकों को कुछ ही घंटे बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. छात्रा के परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. बाकी आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share