5 साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म करने वाले हवसी दरिन्दे शब्बीर को दबोच लिया नोएडा पुलिस ने


एक बार फिर से एक घटिया सोच और निम्न मानसिकता का प्रदर्शन किया गया है नॉएडा में जहाँ पर पड़ोसी के भाईचारे और प्रेम का गलत फायदा उठा कर विश्वास का गला घोंटा गया.. मासूम बच्चियों के लिए पुलिस के तमाम प्रयासों के बाद जहाँ अपराध पर रोक लगाने के तमाम प्रयास चल रहे हैं तो वहीँ सरकार ने भी पोस्को जैसा कड़ा कानून बना कर वहशी दरिंदो में खौफ भरने की कोशिश की है .. पर इतने के बाद भी कुछ हवसी ऐसे भी हैं जो किसी भी हाल में अपनी दरिंदगी त्यागने को तैयार नहीं हैं .

जिस “गया” में हैं हिन्दुओं और बौद्धों के तीर्थ, उसी को रंगने की तैयारी थी रक्त से.. निशाने पर हर वो, जिसके तन पर है भगवा

एक बार फिर से ऐसा ही एक दरिंदा निकला है दिल्ली से सटे हुए NCR क्षेत्र में पड़ने वाले नोएडा में. यहाँ पर एक हवसी ने महज 5 साल की बच्ची को अपना निशाना बनाया है जबकि वो बच्ची का पड़ोसी था और बच्ची का परिवार उस पर विश्वास करता था .. यहाँ पर सराहना करनी होगी नॉएडा पुलिस की जिसने भागने की फ़िराक में लगे दरिन्दे शब्बीर को मौक़ा नहीं दिया और समय रहते दबोच कर जेल पोस्को एक्ट लगा कर जेल भेज दिया है.. आम जनमानस शब्बीर के जल्द से जल्द सज़ा पाने की प्रतीक्षा कर रहा है .

अयोध्या मामले में बाबर की तरफ से श्रीराम के खिलाफ खड़ा हुआ है जो हिन्दू वकील उसको मिल रहे हैं बुजुर्गो से ऐसे संदेश

ये मामला नोएडा के थाना फेज-3 क्षेत्र के एक गांव का है जहां एक परिवार किराए के मकान में रहता है. परिवार में एक पांच साल की बच्ची भी है. आरोप है कि उसके जन्मदिन की तैयारियां चल रही थीं. उसी दौरान पड़ोस में रहने वाले बिहार के किशनगंज निवासी शब्बीर बच्ची को अपने कमरे में ले गया. उसके साथ छेड़छाड़ के बाद दुष्कर्म किया. बच्ची का शोर सुनकर उसकी मां और पड़ोसी जमा हो गए. लोगों ने आरोपी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने आरोपी को दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...