शेर की तरह लड़ी शामली पुलिस और दबोच लिया अवैध हथियारों के तस्कर मुस्तफा को

अपराध को जमींदोज करने व अपराधियो को जमीन सुंघा देने की जो पहल शामली पुलिस ने की है उसके सार्थक परिणाम सामने दिखाई देने शुरू भी हो गए हैं..अपनी निष्कलंक, निष्पक्ष छवि के साथ कर्तव्यपरायणता के लिए विख्यात पुलिस अधीक्षक अजय कुमार के नेतृत्व में एक बार फिर से शामली पुलिस ने एक और सराहनीय कार्य करते हुए अवैध हथियारों के एक बड़े तस्कर को भारी मात्रा में हथियारों के साथ दबोच लिया है और निर्भयता प्रदान की है शामली और आस पास के जनपदों की उस जनता को जिसे उत्तर प्रदेश पुलिस से बहुत आशाएं हैं..कहना गलत नही होगा कि उन आशाओं और अपेक्षाओं पर एक बार फिर से खरे उतरे हैं युवा और कर्मठ IPS अजय कुमार जी..

ध्यान देने योग्य है कि एक बार फिर से सराहनीय कार्य करते हुए शामली पुलिस नेे शातिर असलाह तस्कर को एक मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है. इस मुठभेड़ में अभियुक्त को गोली भी लगी है और साथ मे भारी मात्रा में असलाह-कारतूस बरामद किया गया है.  शामली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दिनांक 26 जून, समय क़रीब 8:30 बजे शाम को मुखबिर की सटीक सूचना के आधार पर यमुना ब्रिज पर चेकिंग के दौरान घेराबन्दी की गई थी। पीठ पर पिट्ठू बैग रखे हुए एक संदिग्ध बाइकर काफ़ी तेज़ी से आता हुआ दिखा जिसे रोकने का प्रयास किया गया और इसी ज़द्दोजहद में उसने पुलिस पार्टी पर फ़ायर झोंक दिया..

आत्मरक्षा में जवाबी फ़ायरिंग हुई। बदमाश गोली लगने से चिल्लाता हुआ ज़मीन पर गिर गया। उसे उठाकर अस्पताल ले जाया गया। एक सिपाही सचिन भी घायल हुए उन्हें भी अस्पताल भेज दिया गया है। बदमाश का नाम मुस्तफ़ा पुत्र सुलेमान प्रकाश में आया है। यह थाना कैराना के गाँव तितरवाड़ा का रहने वाला है, यह बदमाश पानीपत में असलहों की सप्लाई के लिए जा रहा था.. इस बदमाश के क़ब्ज़े से पिट्ठू बैग में 10 अदद तमंचे, 4 अदद देशी पिस्टल, 2 अदद मैगज़ीन, 8 नग ज़िन्दा कारतूस व तीन खोखा कारतूस बरामद हुआ है। साथ ही, एक बाइक भी बरामद हुई है जो संदिग्ध है। अपराधी के बारे में विस्तृत विवरण तैयार किया जा रहा है।


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share