उसके लिए हिन्दू मुस्लिम बातें करने वाले मूर्ख हुआ करते थे.. जब वो गर्भवती हुई तो तनवीर ने किया ये हाल

उसके लिए हिन्दू-मुसलमान की बातें करने वाला हर व्यक्ति मूर्ख होता था. जब भी कोई उसको लव जिहाद की, मजहबी कट्टरपंथ की बात बताता था तो वह चिढ जाती थी तथा उसके लिए हिन्दू संगठन के लोग गुंडे समान होते थे. फिर उसकी जिन्दगी में अनिल नामक एक युवक की एंट्री हुई जो हकीकत में अनिल नहीं बल्कि तनवीर आलम(शाकिब) था. जब तक वह सेक्यूलर युवती अनिल की हकीकत को समझ पाती तब तक उसकी जिदंगी तबाह हो चुकी थी.

मामला देश की राजधानी दिल्ली से सटे नॉएडा का है जहाँ के सेक्टर-45 में युवक ने धर्म छिपाकर युवती से शादी रचा ली. शादी के दो साल बाद जब पीड़िता छह माह की गर्भवती हो गई तो उसे पति के धर्म के बारे में पता चला. इसके बाद आरोपी ने अपना असली धर्म स्वीकार कर पत्नी पर भी धर्मांतरण का दबाव डालने लगा. विरोध करने पर युवती का गला दबाकर जान से मारने की भी कोशिश की. इस संबंध में पीड़िता ने थाना सेक्टर-39 में तहरीर दी है. पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पश्चिम बंगाल मालदा निवासी युवती अपनी मां के साथ सन 2010 में सेक्टर-45 सदरपुर गांव में किराये पर रहती थी. इस दौरान उसकी मुलाकात बिहार के किशनगंज निवासी युवक से हुई. वह सेक्टर-44 छलेरा में रहता है. युवक ने अपना नाम अनिल सरकार बताया. दोनों के बीच दोस्ती हो गई। इस दौरान युवती की शादी किसी अन्य युवक से हो गई. दोनों की एक पांच वर्षीय बेटी भी है. बाद में युवती के पति की मौत हो गई.

इसके बाद युवती और अनिल(तनवीर) एक दूसरे के करीब आ गए. अनिल ने युवती के घर पहुंचकर उसकी मां के सामने शादी का प्रस्ताव रखा. मां ने शादी के लिए हामी भर दी. जून 2016 में पश्चिम बंगाल के मालदा स्थित मंदिर में अनिल ने युवती के शादी कर ली. शादी के बाद अनिल ने पत्नी व सास के साथ सदरपुर में किराये के मकान में रहना शुरू कर दिया. इसके बाद युवती गर्भवती हो गई तब उसको पता चला कि अनिल का वास्तविक नाम तनवीर अलाम है. इसके बाद अनिल बना तनवीर उसको जबरन मुस्लिम बनाने के लिए दवाब बनाने लगा. युवती के मना करने पर तनवीर ने उसके मारपीट की. इसके बाद युवती ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा ने बताया कि मंगलवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. उससे पूछताछ की जा रही है.

 

Share This Post

Leave a Reply