अब्बास अली के बेटे ने अपना नाम सूरज रखा था.. फिर अपहरण किया एक नाबालिग का और बलात्कार किया इबादतगाह में

उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ से एक नाबालिग किशोरी के बलात्कार का हैरान करने वाला मामला सामने आया है जहाँ अब्बास अली का हैवान बेटा सूरज अली आज़मगढ़ के तरवां थाना क्षेत्र के गांव की रहने वाली किशोरी का अपहरण कर चंदौली के मुगलसराय ले गया तथा वहां की एक इबादतगाह में उसे बंधक बनाकर रखा तथा उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. किशोरी को ढूंढते हुए परिजन दूसरे दिन मौके पर पहुंचे और मुक्त कराकर घर वापस लेकर आए. परिजनों ने इस मामले में थाने में केस दर्ज कराया है तथा पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजकर मामले की गहनता से जांच पड़ताल कर रही है.

भाजपा सांसद का दावा- “सरकार की 54 जमीनें कब्जा कर बना ली गई मस्जिद” .. राजधानी दिल्ली का है ये हाल

प्राप्त हुई जानकारी के मुताबिक़, पीड़िता के पिता ने बताया कि सूरज पुत्र अब्बास अली हैदर अक्सर उसके घर के आसपास आता-जाता रहता था. गांव का ही होने की वजह से इसलिए उसे सभी जानते थे. चार जुलाई को पीड़िता किसी काम से बाजार जा रही थी. रास्ते में सूरज मिल गया. परिवार की घनिष्ठता का फायदा उठाते हुए किशोरी को अपनी बाइक पर बैठा लिया और बहला-फुसलाकर मुगलसराय लेकर चला गया। वहां सूरज ने किशोरी को एक इबादतगाह में बंद कर उससे दुष्कर्म किया.

80 साल की वृद्धा को भी नहीं छोड़ा चाँद ने.. हवस की आंधी में अब बच्चियों के बाद वृद्धाएं भी

देर तक किशोरी के घर ना लौटने पर परिवार के लोगों ने खोजबीन शुरू की तो पता चला कि वह सूरज के साथ गई थी. परिवार के लोग अब्बास अली हैदर के घर पहुंचकर पूछताछ की. इसके बाद पांच जुलाई को मुगलसराय पहुंचकर बंधक बनी किशोरी को मुक्त कराया लेकिन सूरज अली वहां नहीं मिला. एसपी सिटी कमलेश बहादुर ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पीड़िता को मेडिकल मुआयना के लिए भेज दिया गया है. आरोपी की तलाश की जा रही है तथा उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.
Share This Post