Breaking News:

मासूम बच्ची का हुआ है गैंगरेप जिसमे गुनाहगार है शराफत का लाइसेंस बांटने वाले लोग… हिंदू संगठन सड़कों पर

बुधवार शाम मेरठ में एक बच्ची के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले को सांप्रदायिक तूल देने की भी कोशिश की गई। जिसे एसपी सिटी ने विफल कर दिया, उन्होने भाजपा विधायक और हिंदू संगठनों के नेताओं को खुद जिला अस्पताल ले जाकर बच्ची का मेडिकल परीक्षण कराने वाले डॉक्टरों से बात कराई। जिसके बाद भाजपा विधायक ने थाने पहुंचकर भीड़ को शांत किया गया।

बुधवार शाम कुछ असामाजिक तत्वों ने शोर मचा दिया कि बच्ची से दुष्कर्म का आरोपी छात्र दूसरे समुदाय का है।

इसके बाद ही हँगामा होना शुरू हुआ। भाजपा विधायक के अलावा भाजपाई और हिंदू संगठनों के नेता भी मौके पर पहुंच गए। जगह-जगह बवाल होने लगा। मामला तूल पकड़ता देख पुलिस ने पीड़ित छात्रा और उसके कुछ परिजनों को महिला थाने पहुंचा दिया।

इसके बाद एसपी सिटी खुद विधायक और हिंदू संगठनों के नेताओं को लेकर जिला अस्पताल गए और वहां बच्ची का मेडिकल परीक्षण करने वाले चिकित्सक से उनकी बात कराई। चिकित्सकों ने परीक्षण में बच्ची से दुष्कर्म नहीं होने की पुष्टि की।

जिसके बाद एसपी सिटी ने नेताओं से कहा कि वह बेवजह बवाल कर रहे लोगों के बीच जाकर उन्हें समझाएं। इधर पुलिस भी बच्ची के परिजनों को भी संतुष्ट करने में लगी थी।

वहीं, एसपी सिटी जब महिला थाने से नौचंदी थाने पहुंचे तो वहां मौजूद भाजपा विधायक और अन्य नेताओं से कहा कि अभी दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है और आप यहां हँगामा मचा रहे हैं। बेवजह शहर में जगह-जगह जाम लग रहे हैं। तीन जगह तो वह खुद जाम खुलवाकर आ रहे हैं। इस पर विधायक सोमेंद्र तोमर एसपी सिटी से बोले कि जिस तरह आप जिम्मेदार अधिकारी है, उसी तरह वह भी जनता के प्रति जिम्मेदार हैं। 

Share This Post