शिवराज के राज में प्रभु हनुमान की प्रतिमा का हुआ अपमान… अपमानित करने वाले वही जो सह नहीं पाते एक ट्विट भी

श्री हनुमान जी हिन्दु के सबसे बड़े ओर परम शक्तिशाली भगवान है। ।लाख मना करने के बावजूद भी ये मजहबी कट्टर हिन्दुत्व आस्था पर चोट करने से बाज नहीं आ रहे हैं। हिन्दू दूसरे मजहब की इज्जत करना बाखूबी जानता हैं पर ये कट्टर मजहबी अपनी हरकतों से हमेशा हिन्दुत्व आस्था को चोटिल करने की कोशिश में लगे रहते हैं।

आपको बता दे ईद मीलादुन्नबी पर मुसलमानों द्वारा निर्भय नगर अधारताल से जबरन वाहन रैली निकालने एवं श्री हनुमान जी की प्रतीमा को अपमानित का प्रयास किया गया ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मुस्लिम लोगो द्वारा निर्भय नगर में आयोजित अखंड रामायण को बाधित करने के उद्देश्य से रैली निकलने का प्रयास किया गया।

साथ ही अखंड रामायण पाठ को भी बंद करवाने की कोशिश की गयी।
जिसको लेकर हिन्दू समुदाय के लोगों ने इसका विरोध किया। जिसपर विवाद की स्थिति निर्मित हो गयी । हिन्दू समुदाय के लोगों ने मुसलमानों को खदेड़ा तथा रैली नहीं निकालने दी । इस दौरान पुलिस बल द्वारा क्षेत्र को छावनी बना दिया गया लगभग 6 घंटो बाद स्थिति काबू में आयी।

Share This Post

Leave a Reply