पूर्व आप नेता का आरोप… खुद की पार्टी को ज़िंदा रखने के लिए कांग्रेस की वैशाखी लगाना चाहते हैं केजरीवाल

हाल ही में राज्यसभा उपसभापति के चुनाव में भाजपा समर्थित उम्मीदवार हरिवंश सिंह ने कांग्रेस के हरिप्रसाद को हराकर विजयश्री हासिल की थी. चुनाव से ठीक पहले आम आदमी पार्टी ने कहा था कि हम भाजपा नहीं बल्कि कांग्रेस का समर्थन करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए राहुल गांधी को केजरीवाल से समर्थन मांगना होगा. आम आदमी पार्टी के इस बयान से पूरा देश दंग रह गया था कि जिस कांग्रेस के खिलाफ आम आदमी पार्टी का जन्म हुआ जो आम आदमी पार्टी आज कांग्रेस से हाथ मिलाने को व्याकुल है. हालाँकि राहुल गांधी ने केजरीवाल को भाव नहीं दिया.

अब अरविंद केजरीवाल के पुराने सहयोगी तथा कभी आम आदमी पार्टी के रणनीतिकार रहे योगेन्द्र यदाव ने arvind केजरीवाल पर करारा हमला किया है. आम आदमी पार्टी (आप) नेता आशुतोष के पार्टी छोड़ने पर स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि आज आप की स्थिति खराब हो गई है और पार्टी को जिन्दा रखने के लिए केजरीवाल कांग्रेस से याचना कर रहे हैं ताकि महागठबंधन में शामिल हो सकें. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की आलोचना करके ही आप पैदा हुई, लेकिन अब स्थिति बदल गई है. केजरीवाल की स्थिति यह हो गई है कि वे सिर्फ कांग्रेस की मेहरबानियों पर ही जिंदा रह सकते हैं. आप पार्टी की इससे बुरी हालत और क्या हो सकती है. न्होंने कहा कि पार्टी के इस हश्र के लिए सिर्फ केजरीवाल जिम्मेदार हैं. उनकी जिद और सिर्फ अपने को ही सही मानने की सनक ने पार्टी के शीर्ष लोगों को उनसे अलग होने को मजबूर कर दिया.

योगेन्द्र यादव ने कहा कि आने वाले चुनाव में पार्टी को अरविंद केजरीवाल की इस जिद की कीमत चुकानी पड़ेगी. योगेंद्र यादव ने कहा कि अब आप एक क्षेत्रीय दल बनकर रह गई है. जिस तरह से क्षेत्रीय दलों में लोग आते-जाते रहते हैं, आप की स्थिति भी उसी स्तर की हो गई है.  यादव ने कहा कि जब आप सिद्धांतों की राजनीति करती थी, तब उसकी खबर लोगों की रुचि के लिए विशेष हुआ करती थी लेकिन आज आप से किसी नेता का जाना उसके आंतरिक मामले से ज्यादा कुछ नहीं है लेकिन आम आदमी पार्टी अपना अस्तित्व बचाने के लिए कांग्रेस के बैसाखी का सहारा लेना चाहती है.

Share This Post

Leave a Reply