जानिये आसिफ खान कैसे बन गया आशु महाराज तथा फिर किया वो काम जिससे न सिर्फ इन्सानित बल्कि हिन्दुत्व भी हुआ शर्मशार

प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य आशु महाराज उर्फ़ आशु भाई गुरूजी पर बलात्कार का आरोप लगने के बाद जो खुलासे हो रहे हैं वो काफी हैरान करने वाले हैं. एक महिला ने आशु ‘महाराज’ पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला ने बीते 6 अगस्त को आशु, उसके बेटे और बेटे के दोस्त पर रेप के गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला के आरोप के बाद जब आशु महाराज की तहकीकात की गयी तो जो सच सामने आया वो काफी हैरान करने वाला था. आशु महाराज कोई हिन्दू धर्म गुरु नहीं बल्कि बल्कि एक मुस्लिम जिहादी है जो आशु महाराज बनकर ज्योतिषाचार्य का चोला पहन काले कारनामों को अंजाम दे रहा था. आसिफ खान से जिस तरह से आशु महाराज नाम रखा तथा हिन्दू धर्मगुरु का चोला पहनकर आपने काले काले कारनामों को अंजाम दिया उससे सवाल खड़ा होता है कि कहीं ये कोई हिन्दुओं को बदनाम करने की कोई नई साजिश तो नहीं है?

आशु उर्फ आसिफ खान के बारे में पता चला है कि ये साल 1997 तक दिल्ली के वजीरपुर इलाके की जेजे कॉलोनी में रहता था.इसके बाद उसने जादू-टोना, वशीकरण आदि सीखा तथा वशीकरण और जादू-टोना सीखने के बाद पहले दिल्ली के त्रिनगर और उसके बाद सराय रोहिल्ला इलाके के पदम नगर में अपना ऑफिस खोला तथा वहां उसने अपना नाम बदला और आसिफ से आशु भाई महाराज हो गया.. लेकिन इन ठिकानों पर जब मोटी रकम लेने के बावजूद कई लोगों की मुश्किलें हल नहीं हुईं तब ये वहां से रातों-रात धंधा समेटकर फरार हो गया. उसके बाद करीब 20 साल पहले आसिफ उर्फ आशु पीतमपुरा आया और यहां अपना आश्रम बनाया. फिलहाल इसका ऑफिस दिल्ली के हौज़ ख़ास में है. जानकारी मिली है कि बाबागिरी के धंधे से आसिफ के पास जो पैसा आता है उसे वो रियल स्टेट के धंधे में लगाता है. इसमें उसके बेटे का दोस्त उसका साथ देता है. ये वही दोस्त है जिसके ऊपर महिला ने रेप का आरोप लगाया है. नॉर्थ वेस्ट दिल्ली में आशु उर्फ आसिफ ने करोड़ो रुपये का इंवेस्टमेंट कर रखा है. इसी कमाई की वजह से इसके पास महंगी विदेशी कारें भी हैं.

बताया गया है किएक दिन बलात्कारी आशु महाराज उर्फ़ आसिफ खान का नौकर उसके 50 लाख रुपए लेकर भाग गया. वहां पर उसका धंधा बंद हो गया. इसके बाद वह रोहिणी सेक्टर-7 में रहने लगा. यहां फिर से उसने अपना धंधा जमा लिया. 1990 में झुग्गी में रहने वाला आसिफ 2018 में करोड़ों का मालिक आशु भाई महाराज बन गया. वह टीवी चैनलों पर भी भविष्यवाणी करता. लोग उससे जुड़ते गए और वो अब भविष्यवाणी करने के साथ-साथ दवाइयां भी बनाने लगा था. आपको बता दें कि दिल्ली के प्रीतमपुरा के तरुण एंक्लेव में इसका मकान है और रोहिणी सेकटर-7 बी 4/77-78 में इसका आश्रम है. अपने असली नाम और पहचान को जाहिर न करना उसकी भूमिका पर सवालिया निशान लगाता है कि आखिर आसिफ खान ने आशु महाराज बनने के पीछे की मंशा क्या थी? औअर अगर आसिफ खान ने अपना नाम बदल भी लिया तो उसने छिपाया क्यों?

आपको बता दें कि बलात्कारी आसिफ खान, आशु गुरुजी बनकर नामी टेलीविजन चैनलों पर लोगों की सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान करने का दावा करता है. अक्सर कार्यक्रम के दौरान दिखाया जाता है कि एक रिक्शा चालक कैसे आशु भाई के दिए रतन के चलते कई ट्रकों का मालिक बन गया. यह तो नमूना भर है. इस तरीके के कई दावे दिखाए जाते है. आशु मुलाकात के लिए मोटी फीस लेता है. उपाय आदि के नाम पर ली जाने वाली रकम की तो कोई सीमा नहीं है. नाम बदलकर बाबा बनने वाले आसिफ खान पर अब एक महिला ने उसके व उसकी बेटी के साथ बलात्कार का आरोप लगाया है. आश्चर्य की बात ये है कि महिला के अनुसार उसके साथ बलात्कार सिर्फ आसिफ खान उर्फ़ आशु महाराज ने ही नहीं किया बल्कि उसके बेटे समर खान व अन्य सहयोगियों ने भी किया.

दक्षिण जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, पीड़ित महिला (40) यूपी के गाजियाबाद के इंदिरापुरम की रहने वाली है. महिला ने हौजखास थाना पुलिस को बताया है कि वह आशु बाबा को वर्ष 2008 से जानती है. उसकी बेटी उस समय छह वर्ष की थी जो पोलियो से पीड़ित है. आरोपित बाबा ने महिला से इलाज के लिए बेटी को रोहिणी स्थित आश्रम में लाने को कहा. आरोप है कि बाबा बच्ची को निर्वस्त्र कर उसकी मालिश करता था. यह सिलसिला वर्ष 2013 तक चलता रहा. पीड़िता वर्ष 2013 में दिवाली पर बाबा के रोहिणी स्थित आश्रम में गई थी, जहां आश्रम के मैनेजर ने नशीला पेय पिलाकर बाबा व उसके साथियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. पीड़ित महिला (40) की शिकायत के मुताबिक, बाबा आशु का दिल्ली के सेक्टर-7 रोहिणी में आश्रम है, जबकि दूसरा आश्रम एक्स ब्लाक हौजखास में है. वह बाबा आशु को वर्ष 2008 से जानती है. आरोपी बाबा ने महिला से इलाज के लिए बेटी को रोहिणी स्थित आश्रम में लाने को कहा. महिला की बेटी पोलियो से पीड़ित थी. महिला का आरोप है कि बाबा आशु बच्ची को निर्वस्त्र कर उसकी मालिश करता था व फिर उसने बलात्कार किया. अब महिला ने हौज़खास थाने में शिकायत दर्ज करवाई है लेकिन फिलहाल आसिफ फरार है और पुलिस उसे ढूंढ रही है.

Share This Post