पूर्वोत्तर में ख़त्म हो चुकी अपनी ही पार्टी पर कुमार विश्वाश ने लिया मजा…केजरीवाल को दिया एक गुप्त संदेश

कल पूर्वोत्तर के तीन राज्यों के चुनाव नतीजों के बाद जहाँ बीजेपी में खुशी का माहौल है वहीं लेफ्ट कांग्रेस आदि पार्टियाँ सदमे में हैं. वही आम आदमी पार्टी ने भी नागालैंड तथा मेघालय में चुनाव लड़ा था जहाँ AAP प्रत्याशियों की जमानत तक जब्त हो गयी. आप की इस करारी हार को लेकर आम आदमी के नेता तथा हिंदी के विश्व विख्यात कवि डा. कुमार विश्वाश ने पार्टी संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को नसीहत देते हुए पार्टी पर तंज कसा है.

कुमार विश्वाश ने ट्वीट किया है “अपने असुरक्षाग्रस्त वैचारिक पतन पर विचार करने की अपेक्षा मतदान व मतगणना की प्रक्रियाओं पर प्रश्न खड़े करने वाले नवपतित आंदोलकारियों को जनता ईवीएम की बजाय अंगुलियों पर गिनने योग्य वोट दे रही है. फिर भी वे नकारात्मकता और ओछेपन में मग्न हैं”. व्यंग कसने के लिए मशहूर कुमार विश्वास ने अपने खास अंदाज में अरविन्द केजरीवाल पर तंज कसते हुए एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा “देश की जनता को दोष मत दीजिए. उन्होंने तो दोनों दृष्टियों से अलग एक साफ सुथरी नजर को भी नजारा बख्शा, पर इन नजर वालों ने महज राजा बने रहने के लिए अपनी एक आंख फोड़कर, अंधों की फौज जोड़ ली.”

अपने इन ट्वीट के माध्यम से डा. कुमार सिश्व्स ने केजरीवाल को साफ़ साफ संदेश दिया है कि EVM को दोष देने के बजाय पार्टी वैचारिक मंथन करे. ज्ञात हो कि पंजाब विधानसभा चुनाव, दिल्ली नगर निगम चुनाव, यूपी निकाय चुनाव के बाद केजरीवाल सहित आप नेताओ ने EVM पर सवाल उठाये थे तथा केंद्र सरकार पर जमकर बोला था. हालाँकि उस समय भी कुमार ने पार्टी से असहमति जताई थी. नागालैंड व मेघालय में पार्टी को मिले कम वोटों पर कुमार का साफ़ साफ़ कहना है किउन्ग्लियों पर गिनने लायक वोट दे रही है जनता फिर भी हम अपनी कमियों को सुधारने के बजाय EVM व चुनाव आयोग को दोष दे रह हैं.

 आम अआद्मी पार्टी से निष्काषित विधायक कपिल मिश्रा ने ट्वीट के माध्यम से बताया कि मेघालय में पार्टी को 1146 तथा नागालैंड में पार्टी को मात्र 7355 वोट मिले हैं तथा पार्टी अपनी जमानत तक न बचा सकी है. इन चुनाव परिणामों से पूर्वोत्तर में पार्टी की पैर फैलाने की कोशिशों को करारा झटका लगा है. अब देखना है कि अरविन्द केजरीवाल अपने ही साथी कुमार विशवास की इन बातों से सीख लेते हैं या नहीं.

Share This Post

Leave a Reply