Breaking News:

नारी के सम्मान को कुचल रहा था AAP विधायक का प्रतिनिधि… सामने आयी केजरीवाल के नारी सम्मान की असलियत

आम आदमी पार्टी के मुख्य व दिल्ली के मुख्यमंत्री बातें तो बड़ी बड़ी करते हैं लेकिन हकीकत उनकी बातों के आस पास भी दिखाई नहीं देती. सत्ता में आने से पहले अरविन्द केजरीवाल जी ने दिल्ली की जनता से बड़ी-बड़ी बाते, बड़े-बड़े वादे किये तथा सत्ता में आने के बाद उनके वादे हवा हवाई दिखाई दे रहे हैं. अरविन्द केजरीवाल तमाम दावे करते हैं कि उनकी सरकार दिल्ली के हित के काफी काम कर रही है लेकिन जब बात हकीकत की आती है तो केजरीवाल के वादों तथा दावों की धज्जियाँ उनके की विधायक या उनके प्रतिनिधि उड़ाते हुए नजर आते हैं.

ताजा मामला दिल्ली के मटियाला क्षेत्र का है जहाँ से आम आदमी पार्टी के विधायक गुलाब सिंह के प्रतिनिधि के महिला शिक्षिका के साथ लगातार छेड़खानी आदि कर रहे हैं तथा उनके साथ गलत हरकतें कर रहे हैं. खबर के मुताबिक़, दिल्ली सरकार के एक स्कूल में कार्यरत शिक्षिका ने स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के एक सदस्य पर परेशान करने का आरोप लगाया है. महिला ने थाने में दी शिकायत में कहा है कि कमेटी के सदस्य लाल सिंह उन्हें मानसिक रूप से परेशान करते हैं. लाल सिंह खुद को इलाके के विधायक का प्रतिनिधि बताते हैं. शिकायत में महिला ने कहा कि जब मैं स्कूल जाती हूं तो स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य लाल सिंह स्कूल के गेट पर खड़े रहते हैं और अभद्र शब्दों के प्रयोग के साथ ही अश्लील इशारे करते हैं. विरोध करने पर मुझे मुकदमे में फंसाने की धमकी देते हैं. मैं मानसिक रूप से काफी परेशान हूं. वहीं पुलिस ने इस बाबत मामला दर्ज कर लिया है तथा  मामले की जांच की जा रही है.

केजरीवाल के विधायक प्रतिनिधि द्वारा एक ामहिआला शिक्षिका से साथ लगातार अभद्रता की खबर आने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने केजरीवाल सरकार की आलोचना की है तथा कहा है कि मुख्यमंत्री नारी स्वाभिमान की बड़ी बड़ी बातें करते हैं लेकिन खुद उनके विधायक के प्रतिनिधि ने एक महिला शिक्षिका का जीना दुस्वार कर रखा है. विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि मटियाला के विधायक गुलाब सिंह के करीबी लाल सिंह पर शिक्षिका ने उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई है. लाल सिंह उस स्कूल में मैनेजमेंट कमेटी के प्रतिनिधि हैं इसलिए आप नेता शिकायत वापस लेने का दबाव बना रहे हैं, जबकि मुख्यमंत्री मामले में चुप्पी साधे हुए हैं. विजेंद्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री को चाहिए कि वह तत्काल लाल सिंह पर कार्यवाही करें.

Share This Post