Breaking News:

पाकिस्तानी हिन्दुओं के साथ हो रहे अत्याचार के खिलाफ आज दिल्ली की सड़कों पर उतर रहे हैं श्री सुरेश चव्हाणके जी… आम जनता भी शामिल होगी विशाल धरने में

जब सरकारें गूंगी-बहरी हो जाती हैं, जब सरकारें एक वर्ग विशेष के लोगों के तुष्टीकरण में पूरी तरह से अंधी हो जाती हैं तथा उन्हें आम जनमानस की आवाज तक सुनाई नहीं देती है तब राष्ट्रवादियों के अंदर आक्रोश की ज्वाला धधक उठती है तथा सरकारों के खिलाफ समरभूमि में आना पड़ता है. अगर वर्तमान स्थिति में मुस्लिम तुष्टीकरण की राजनीति करने वाले राजनेताओं की सूची बनाये जाए तो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल उसमें अग्रणी पंक्ति में जरूर शामिल होंगे. लेकिन अब केजरीवाल सरकार की इन्ही नीतियों के खिलाफ जंग का एलान किया है सुदर्शन टीवी के चेयरमैन श्री सुरेश चव्हाणके जी ने.

केजरीवाल सरकार की मुस्लिम तुष्टिकरण नीतियों का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले काफी दिनों से दिल्ली में पाकिस्तान से आये हुए हिन्दू शरणार्थियों के कैंपों की बिजली काट दी गई है. ये उसी केजरीवाल की सरकार ने किया है जो म्यांमार में बौद्धों तथा हिन्दुओं का कत्ल करके भारत आये रोहिंग्या शरणार्थियों को बिजली-पानी सहित तमाम सुविधाएँ दे रही है. हिन्दू समुदाय के लोगों के कैंपों की बिजली उसी केजरीवाल सरकार ने काटी है जो दिल्ली में क्रूर आक्रांता बांग्लादेशी घुसपैठियों को अनेकानेक सुविधाएँ दे रही है. इससे अधिक शर्मशार कुछ हो ही नहीं सकता है जो हिन्दू शरणार्थी भारतमाता की जय बोलते हैं, जो भारत के मूल वाशिंदे हैं, केजरीवाल सरकार उनको बिजली तक नहीं दे सकती है लेकिन जो रोहिंग्या तथा बांग्लादेशी हिन्दुस्तान को खोखला कर रहे हैं उन्हें तमाम सुविधाएँ प्रदान की जा रही हैं.

केजरीवाल सरकार की इसी तानशाही तथा तुष्टिकरण की नीतियों के खिलाफ श्री सुरेश चव्हाणके जी ने आज दिल्ली में आज दोपहर दो बजे हिन्दू शरणार्थी कैंप, मजलिस मेट्रो स्टेशन कुछ करने का एलान किया है. श्री सुरेश सुरेश चव्हाणके जी ने एलान किया है कि अगर दोपहर दो बजे तक हिन्दू शरणार्थी कैंपों की बिजली नहीं जोड़ी गई तो वह वहां जाकर खुद अपने हाथों से बिजली के कनेक्शन जोड़ेंगे, इसके बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल तथा उनकी सरकार जो कार्यवाही करना चाहे कर सकती है. श्री सुरेश चव्हाणकी जी ने कहा है कि वह देश की राजधानी दिल्ली को पाकिस्तान नहीं बनने देंगे जहाँ हिन्दुओं पर अत्याचार हों तथा देश की सुरक्षा के लिए खतरा रोहिंग्या व बांग्लादेशी घुसपैठियों को रिश्तेदारों जैसी सुविधाएँ मिलें. श्री सुरेश चव्हाणके जी ने दिल्ली तथा उसके आस पास के क्षेत्र के तमाम हिन्दू संगठनों समाजसेवियों से आह्वान किया है कि वह सभी दोपहर दो बजे पाक हिन्दू शरणार्थी कैंप, नजदीक मजलिस मेट्रो स्टेशन पहुंचे तथा हिन्दू शरणार्थियों पर केजरीवाल सरकार द्वारा हो रहे अत्याचारों के खिलाफ शुरू किये गए इस महासंग्राम में सैनिक बनें तथा दिखा दें कि हिंदुस्तान के किसी भी कोने में मुगलिया अंदाज में सल्तनत बिलकुल नहीं चलेगी, रोहिंग्या तथा बांग्लादेशियों से प्यार व हिन्दुओं को दुत्कार बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

Share This Post