आशुतोष के बाद अब एक और कद्दावर आप नेता का इस्तीफा… ताश के पत्तों जैसे ढहने लगा केजरीवाल का साम्राज्य

ज्यादा द्दीन नहीं हुए हैं जब आम आदमी के कद्दावर नेता आशुतोष ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. आशुतोष के इस्तीफे से राजनैतिक गलियारों में हलचल मच गयी थी तथा ये आम आदमी पार्टी के लिए बड़ा झटका माना गया था. आम आदमी पार्टी अभी आशुतोष के इस्तीफे से उबरी भी नहीं थी कि आम आदमी पार्टी को एकबार फिर से बड़ा झटका लगा है. खबर के मुताबिक़, अब आम आदमी पार्टी और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के अहम साथी आशीष खेतान ने भी पार्टी से दूरी बना ली है तथा पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट के जरिये दी है.

पहले आशुतोष और आशीष खेतान का इस्तीफ़ा न सिर्फ आम आदमी पार्टी बल्कि खुद अर्विन्द केजरीवाल के लिए बड़ा झटका है. आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लगातार झटके पर झटके लग रहे हैं. मंगलवार को आम आदमी पार्टी और सीएम अरविन्द केजरीवाल के अहम् साथी रहे आशीष खेतान ने भी सक्रीय राजनीति से दूरी बनाते हुए ट्वीट किया. आशीष खेतान ने अपने ट्वीट में लिखा है कि वह अब अपना पूरा ध्यान अपनी लीगल प्रैक्टिस पर रखना चाहते हैं और इसलिए सक्रिय राजनीति छोड़ रहे हैं. हालाँकि उनकी प्रैक्टिस और सक्रिय राजनीति से दूर जाने के कई और भी मतलब निकाले जा रहे हैं तथा माना जा रहा है कि वह पार्टी की नीतियों से खुश नहीं थे.

ज्ञात हो कि आशीष खेतान से पहले पूर्व पत्रकार आशुतोष ने भी 15 अगस्त को निजी कारणों का हवाला देते हुए आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. वहीँ अब आशुतोष के बड़ा आशीष खेतान का पार्टी और सक्रीय राजनीती से जाना, आम आदमी पार्टी के लिए अच्छी खबर नहीं मानी जा रही है, वहीँ आशीष खेतान के सक्रीय राजनीति से दूरी की बात को आम आदमी पार्टी का बाग़ी खेमा स्वीकार नहीं कर रहा है.  बागी नेताओं की माने तो सीएम अरविन्द केजरीवाल की बदलती नीतियों के चलते आम आदमी पार्टी के सच्चे सिपाही निराश हो रहे हैं. जिसके कारण वह एक एक कर पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं. अभी तक कई पार्टी के नेता या तो इस्तीफा दे चुके हैं या तो उन्हें पार्टी ने किनारे कर दिया है. जिसमें कवि कुमार विश्वास, योगेन्द्र यादव, प्रशांत भूषण जैसे कई नाम शामिल हैं. जोकि कभी अरविन्द केजरीवाल के साथ खड़े हुआ करते थे लेकिन अब वह केजरीवाल का साथ छोड़ चुके हैं.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share