सुलग रहा है सेक्यूलर कांग्रेस शासित राजस्थान.. कश्मीरी अंदाज में हो रही पत्थरबाजी

आम तौर पर शांत मानी जाने वाली वीरभूमि राजस्थान की राजधानी जयपुर इस समय सांप्रदायिक हिंसा की आग में सुलग रही है. सेक्यूलर कांग्रेस शासित राजस्थान कली राजधानी जयपुर इस समय छाबनी हुई है. जयपुर को हिंसा की सुलगाने की शुरुआत सोमवार को बकरीद के दिनउस समय हुई जब मामूली बात को लेकर मजहबी उन्मादियों ने शहर में हिंसा शुरू कर दी. जिसने भी रोकने का प्रयास किया, उसे भी निशाना बनाया गया, कश्मीरी अंदाज में जमकर पत्थर बरसाए गये. बसों को रोककर तोड़फोड़ की गई, यात्रियों को निशाना बनाया गया.

इस समय जयपुर की स्थिति कितनी संगीन है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शहर के 15 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई है तथा यहां पर इंटरनेट सेवाएं सोमवार से ही बंद हैं. राजस्थान के पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह ने बुधवार को बताया कि तनाव और उपद्रव प्रभावित इलाकों में जरूरी एहतियाती कदम उठाते हुए अतिरिक्त बल तैनात किए गए हैं। पुलिस अब तक 15 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. उन्होंने कहा कि दस थाना क्षेत्रों में पांच दिन के लिए धारा 144 लगाई गई है. पिछले तीन दिन में उपद्रव की घटनाओं के सिलसिले में पांच मामले दर्ज किए गए हैं. अन्य शरारती तत्वों की गिरफ्तारी भी शीघ्र की जाएगी.

राजस्थान के पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह ने इसके साथ ही लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की. इसके अलावा उन्होंने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले कुछ लोगों को भी चिह्नित किया है. वहीं जयपुर के पुलिस आयुक्त आनंद श्रीवास्तव ने कहा कि सोमवार की रात दो समुदायों में यह तनाव एक छोटे सी सड़क दुर्घटना के बाद शुरू हुआ. हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े.

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजयपाल लांबा ने बताया कि दस पुलिस थाना क्षेत्र में मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित की गयी है. इलाके में अतिरिक्त बल लगाया गया है और हालात नियंत्रण में है. उन्होंने कहा कि घटना में दो पुलिसकर्मियों सहित 17 लोगों को चोटें आईं. घटना में शामिल लोगों को चिन्हित करने की कोशिश की जा रही है. इसके अलावा दिल्ली बाईपास और अन्य इलाकों में आगजनी की भी सूचना है. फिलहाल जयपुर छाबनी बना हुआ है तथा पूरा शहर सुरक्षाबलों के बूटों की आवाज से गूँज रहा है.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW