चरमपंथ से सबसे ज्यादा मजबूती से लड़ते शासक बने योगी आदित्यनाथ.. मेरठ में बवाल करने वाले बदर अली की बिल्डिंग बुलडोजर लगा कर ध्वस्त


यदि वर्तमान समय में मज़हबी उन्माद और चरमपंथ के खिलाफ लड़ रहे तमाम राजनेताओं की बात की जाय तो उसमे निश्चित रूप से सबसे आगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ही नाम आएगा जिन्होंने उत्तर प्रदेश में खुद को कट्टर उन्मादी लगाने और वैसा दिखाने वालों के हौसले पस्त करने के लिए जी जान लगा दी है .. ये शुरुआत मुख़्तार अंसारी और अतीक अहमद जैसे दुर्दान्तों से हुई थी और अब वही श्रृंखला जा कर मेरठ के बदर अली जैसों तक पहुची है ..

विदित हो कि झारखंड पुलिस के साफ साफ ये कहने कि तबरेज की मौत मॉब लिंचिंग के चलते नहीं हुई , उसके बाद भी प्रदेश की कानून व्यवस्था को बिगाड़ने पर आमादा कुछ लोगों ने एक साजिश के तहत अलग अलग जगहों पर प्रदर्शन किये ..इसमें से कई प्रदर्शन सरकार कि अनुमति तो दूर बिना प्रशासन की जानकारी में हुए .. मेरठ और आगरा में भी उनम्दियो ने कहर बरसाया था जिसके बाद योगी सरकार के एक्शन की प्रतीक्षा सब कर रहे थे और वो बेहद सुखद रहा .

मेरठ में बवाल के आरोपित युवा सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष बदर अली पर प्रशासन का फंदा कस गया है। उसके अवैध नर्सिग होम पर मंगलवार को मेरठ विकास प्राधिकरण ने अपना बुलडोजर चला दिया है। एमडीए ने यह कार्रवाई सुबह 11 बजे के आसपास शुरू की।इससे पहले एमडीएम अधिकारियों ने प्रशासन से इस बड़ी कार्रवाई के लिए अनुमति मांगी थी। एमडीएम के मुताबिक अस्पताल के लिए बन रही इमारत को बिना मानचित्र स्वीकृत कराया गया था और जल्द शुभारंभ होने वाला था। लेकिन इससे पहले ही एमडीएम अधिकारियों ने पुलिस फोर्स के साथ पहुंचकर कार्रवाई की। इस कार्यवाही का हर तरफ स्वागत किया जा रहा है और आम जनता के मुह से ये खुल कर कहा जा रहा है कि मजहबी उन्माद से सबसे मजबूती से लड़ता नाम योगी आदित्यनाथ है ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...