UP के स्कूल में चल रहा तालिबानी शासन… सलाम वालेकुम न बोलने वाले बच्चे की निर्दयता से पिटाई


कुछ समय पहले ही उत्तर प्रदेश के स्कूलों के इस्लामीकरण की खबर सामने आई ठी जिसमें साजिश के तहत स्कूलों के नाम बदलकर इस्स्लामिक स्कूल कर दिए. लेकिन अब एक बार फिर उत्तर प्रदेश से चौंकाने वाली खबर आई है जहाँ के एक स्कूल में तालिबानी शासन चल रहा है. मामला उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले के एक स्कूल का है जहाँ छात्रों को शिक्षक चाँद मियां द्वारा इसलिए पीटा गया क्योंकि छात्रों ने शिक्षक चाँद मियां को good मॉर्निंग कहा था जबकि चाँद मियां सलाम वालेकुम बुलवाता था. मामला तूल पकड़ने पर जिले की नोडल अफसर डिंपल वर्मा ने गांव पहुंचकर पीड़ित बच्चों का बयान लिया है. बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) ने मामले के जांच के आदेश दिए हैं. फिलहाल आरोपी शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है.

मुख्य विकास अधिकारी प्रेरणा शर्मा ने बताया कि प्रमुख सचिव डिंपल वर्मा रविवार को शाहजहांपुर जिले के दौरे पर थीं. उन्होंने थाना तिलहर के बिलहरी गांव का दौरा किया. यहां ग्रामीणों ने अपनी-अपनी शिकायतें गिनाईं, तभी गांव के स्कूली बच्चे भी वहां आ गए. उन्होंने प्रमुख सचिव से स्कूल टीचर चांद मियां की शिकायत की. उन्होंने कहा कि टीचर स्कूल आने के बाद बच्चों से इस्लामिक अभिवादन (सलाम) करने का दबाव बनाते हैं. इस्लामिक अभिवादन न करने पर टीचर बच्चों को पीटता है.

बच्चों का कहना है कि जब हमने गुड मॉर्निंग किया, तो टीचर ने गुड मॉर्निंग का जवाब देने से इनकार कर दिया. नमस्ते किया तो उसका भी जवाब देने से इनकार कर दिया. टीचर कहते हैं कि स्कूल आने पर सलाम किया करो. बीएसए राकेश कुमार ने बताया कि बच्चों से बात की तो आरोप सही पाए गए हैं. टीचर के इस्लामिक अभिवादन का दबाव बनाने की पुष्टि हुई है. टीचर को सस्पेंड कर दिया गया है. बच्चों की पिटाई के भी आरोप सही पाए गए. बच्चों का मेडिकल कराया गया है, टीचर के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...