फिर सुलगा मेरठ.. घर की महिलाओं पर लगाया है निशाना, फाड़ डाले महिलाओं के कपड़े और होने जा रहा था अपहरण.. उसका नाम है जीशान

उत्तर प्रदेश के मेरठ में मजहबी उन्मादियों का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है. हिन्दुओं का पलायन, मंदिर पर मजहबी उन्मादियों के हमले के बाद अब महिलाओं को निशाना बनाया गया है. खबर के मुताबिक़, मेरठ देहात क्षेत्र में शनिवार रात मुस्लिम समुदाय के पांच युवकों ने एक हिन्दू युवती का अपहरण करने की कोशिश की. आरोपी युवकों ने युवती का हाथ पकड़कर खींचा और छेड़छाड़ करते हुए उसके कपड़े भी फाड़ दिए।. पीड़िता के शोर मचाने पर परिजनों के पहुंचने पर आरोपी धमकी देते हुए भाग निकले. मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी जीशान को गिरफ्तार कर लिया तथा सांप्रदायिक तनाव को देखते हुए इलाके में पुलिस तैनात करना पड़ा.

नाबालिग बच्ची के ऊपर बंदूक रखा और ले गये मदरसे में.. सीतापुर में कुचला गया बचपन

बताया गया है कि भावनपुर थाना क्षेत्र के अब्दुल्लापुर क्षेत्र निवासी एक युवती की मां की शनिवार रात अचानक तबियत खराब हो गई थी. जिसके चलते पीड़िता घर के पास ही मेडिकल स्टोर पर दवाई लेने गई थी. मेडिकल स्टोर से लौटते समय रास्ते में अंधेरा था. आरोप है कि मुस्लिम समुदाय के तीन युवक रास्ते में खड़े मिले, जिसमें से एक युवक जीशान ने पीड़िता को धक्का देकर गिरा दिया. जबकि दूसरे युवक ने हाथ पकड़कर खींचने की कोशिश की और छेड़छाड़ की. पीड़िता ने विरोध करने की कोशिश की तो आरोपियों ने उसे एक घर में खींचने की कोशिश की.

जबरन मार पीट कर “जय श्रीराम” बुलवाने वाला हिन्दू नहीं बल्कि कोई और ही निकला.. साजिश का पर्दाफाश

उन्मादियों ने इस दौरान पीड़िता के कपड़े भी फाड़ दिए. शोर सुनकर परिजन और आसपास के लोग पहुंच गए. जिसके बाद आरोपी धमकी देते हुए भाग गए. पीड़िता ने अपने परिजनों को को पूरी घटना की जानकारी दी. सूचना पर रात में ही भाजपा नेता संदीप खटीक, जयवीर जाटव, मोहित खटीक, रामपाल, रामकुमार गौतम आदि मौके पर पहुंचे और हंगामा कर दिया. मौके पर पहुंचे सीओ सदर देहात अखिलेश भदौरिया, एसओ भावनपुर ने घटना की जानकारी ली। सीओ ने पीड़ित परिजनों को समझाते हुए तहरीर मांगी तथा कहा कि पुलिस आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करेगी.

वाहन ओवरटेक के मामले को जोड़ दिया “जयश्रीराम” कहने से.. रची जा रही भगवा आतंक से भी गहरी साजिश

पीड़िता ने तीन मजहबी उन्मादी युवकों को पहचानते हुए तहरीर दी है, जबकि दो अन्य युवक भी आरोपियों के साथ बताए गए हैं. सीओ ने बताया कि आरोपी जीशान, आमिर और फुरकान के खिलाफ तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. पुलिस ने मुख्य आरोपी जिशान पुत्र शमशाद को गिरफ्तार कर लिया जबकि अन्य आरोपियों की तलाश में दबिश दी, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़े. पुलिस का कहना है कि बाकी आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW