गौ रक्षकों पर जैसी ही चिल्लाई कांग्रेस वैसे ही भाजपा ने पूछा- “DSP अयूब को किसने मारा”?

नई दिल्ली : देश में भड़की हिंसा के बढ़ते मामलों पर लोकसभा में चर्चा के दौरान कांग्रेस ने सरकार को घेरा। अपने कार्यकाल में हाथों पर हाथ रखकर बैठने वाली कांग्रेस आज सवालों पर सवाल खड़े कर रही है। जिनके कार्यकाल में सेना तक के भी हाथ बंधे हुए थे, जिनकी सरकार में प्रधानमंत्री का पद भी एक मूर्ति के सामान था।

वो आज बीजीपी के कार्यो पर सवाल उठा रहे है। कई सालों से देश में परिवारवादी राजनीती करने वाली कांग्रेस को, महज तीन साल में लगभग 45 सालों का हिसाब चाहिए।

मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर कांग्रेस ने सवाल करते हुए बीजेपी पर चढ़ने की कोशिश की। बीजेपी की तरफ से पलटवार करते हुए संसद हुकुमदेव ने कांग्रेस को याद दिलाये अयूब पंडित जैसे लोग।

हुकुमदेव सिंह ने कहा कि इस घटनाओं को लेकर केंद्र सरकार अपनी फोर्स नहीं भेज सकती है, ये राज्य का मसला है, हमनें कश्मीर में फोर्स भेजी है। कुछ लोग इस तरह की घटनाओं से केंद्र सरकार को बदनाम कर रहे हैं, ऐसे लोगों को ‘कालनेमी’ कहा जाता है। आपको किसी की नियत पर शक नहीं करना चाहिए। इसके साथ ही कहा कि कांग्रेस आरोपियों से बहार निकलकर बीजेपी के कार्यो पर नजर डाले तो उसे साफ दिखाई देगा, कि बीजेपी ने अपने कार्यकाल में कितने फैसले आम जनता के पक्ष में लिया हैं। 

Share This Post

Leave a Reply