दिल का दौरा पड़ने से पंजाब के पूर्व डीजीपी का निधन, जिनके नाम से खौफ खाते थे आतंकी

पंजाब के सुपर कॉप माने जाने वाले पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का राजधानी के सर गंगा राम अस्पताल में निधन हो गया है। उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई। उनके निधन की जानकारी देते हुए डॉक्टरों ने कहा कि वह किडनी फेलियर की लास्ट स्टेज में चल रहे थे और उन्हें दिल की बीमारी भी थी, जिस वजह से उनका निधन हो गया। गिल ने पंजाब में आतंकवाद को काबू करने में सफलता प्राप्त की थी, जिस वजह से उन्हें सुपर कॉप कहा जाता था।

केपीएस गिल का पूरा नाम कंवर पाल सिंह था। गिल ने भारतीय पुलिस सेवा में अपने कैरियर की शुरुआत पूर्वोत्तर के राज्य असम से की थी। शुरुआती दिनों में ही उन्होंने खुद को एक सख्त अधिकारी के रूप में स्थापित किया था। वे 1965 बैच के आईपीएस ऑफिसर थे। वे दो बार पंजाब के डीजीपी बने और साथ ही हॉकी इंडिया फेडरेशन के अध्यक्ष भी रहे। पंजाब पुलिस के प्रमुख के रूप में 1990 के दशक में वह पूरे देश में प्रसिद्ध हुए थे।

सिख बहुल राज्य पंजाब में अलगाववादी आंदोलन को कुचलने का मुख्य श्रेय गिल को ही मिला। पंजाब में मिली सफलता के बाद जहां अपराधियों के बीच उनके नाम से घबराहट फैलने लगी, वहीं मीडिया में वह ‘सुपरकॉप’ के रूप में चर्चित हुए। गिल से कई तरह के विवाद भी जुड़े हुए थे। उन पर यह आरोप भी लगा कि आतंकवाद की समाप्ति के नाम पर उन्होंने हृयूमन राइट का उल्लघंन किया। उन पर एक महिला अधिकारी ने यौन शोषण का आरोप भी लगाया था। जब वे हॉकी इंडिया टीम के अध्यक्ष थे तब भी उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे।

Share This Post