सरकार व जिला प्रशासन के सख्ती के बावजूद,मधुबन गांव में प्रधान व सिकेट्री के द्वारा शौचालय,आवास निर्माण में जबरदस्त भ्रष्टाचार का खेल सामने आया इसकी जांच की जाये तो करोड़ों का घोटाला सामने आयेगा


चंदौली / उत्तर प्रदेश

सरकार व जिला प्रशासन के सख्ती के बावजूद,मधुबन गांव में प्रधान व सिकेट्री के द्वारा शौचालय,आवास निर्माण में जबरदस्त भ्रष्टाचार का खेल सामने आया इसकी जांच की जाये तो करोड़ों का घोटाला सामने आयेगा

चंदौली जनपद के सकलडीहा ब्लाक अन्तर्गत मधुबन गांव में सरकार व जिला प्रशासन के सख्ती के बाद भी भ्रष्टाचार पर रोक नहीं लग पा रहा है। सरकार गांवों के विकास के लिए तमाम कल्याणकारी योजनाओं को लागू कर रखी है।

वहीं कुछ भ्रष्ट प्रधान व सिकेट्री सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को दीमक की तरह सफाचट कर जा रहे हैं। पूरी योजनां को वास्तविक धरातल पर फलीभूत होने से पहले ही भ्रष्टाचार की बलिवेदी पर चढ़ा दे रहे हैं।

ये मामला है सकलडीहा ब्लाक के मधुबन गांव का जहां *प्रधान रमवंति देवी (प्रधान प्रतिनिधि उपेंद्र कुमार राजू) व सिकेट्री शशिकांत,* पूरी योजना को अजगर की तरह गटक जा रहे हैं। मधुबन गांव के ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि प्रधान के द्वारा गरीबों से आवास,शौचालय एवं राशन कार्ड बनवाने के लिए पैसे की मांग की जाती है।

ग्रामीणों के विरोध करने पर प्रधान प्रतिनिधि द्वारा धमकी दी जाती है कि मेरी पहुंच लखनऊ,दिल्ली तक है। प्रधान व सिकेट्री के मनमानी रवैया के चलते मधुबन गांव में स्वच्छ भारत मिशन दम तोड़ता नजर आ रहा है।

शौचालय के अभाव में ग्रामीण खुले में शौच करने के लिए विवश हैं। आवास के अभाव में गरीब टूटी फूटी झोपड़ियों में रहने को मजबूर हैं। गरीब बुजुर्ग प्रधान प्रतिनिधि व सिकेट्री के दबंगई के चलते वृद्धापेंशन से भी वंचित हैं। जब *सुदर्शन न्यूज की टीम* मधुबन गांव में पहुंची तो पीडित ग्रामीणों ने बताया कि प्रधान व सिकेट्री के मिलीभगत से सरकार की योजना का लाभ हम ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है।

जिसकी शिकायत हम विडियो और जिला पंचायत राज अधिकारी से कर चुके हैं इसके बाद भी यहां पर कोई कार्यवाई नहीं हुई है। ग्रामीणों ने बताया *कोटेदार मन्हैयालाल* द्वारा राशन कम दिया जाता है बहुत से ग्रामीणों का नाम कटवा दिया गया है।

गांव में विजली व्यवस्था बहुत ही बदतर स्थिती में है कनेक्शन नहीं उसके बाद भी मीटर लगा दिया गया है। बिजली बिल आ रहा है मीटर जमीन पर गिरे पड़े हुए हैं। मधुबन गांव में ग्रामीणों का हर जगह से शोषण किया जा रहा है।

वेब जर्नलिस्ट 

प्रशान्त सिंह

92649 15248

 

विडियो देखे 👇


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...