बलात्कारी यूसुफ को फाँसी की मांग करते भिड़ गए थे पुलिस से. गिरफ्तार हुए 36 लोग, योगीराज की घटना


उत्तर प्रदेश के कानपुर में बर्रा में पुलिस पर हमला करने के मामले में 200 से ज्यादा लोगों पर मुकदमा दर्ज कर 36 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इसके साथ ही एक महिला एनजीओ संचालिका पर भी लोगों को भड़काने का मामला दर्ज किया गया है. सीओ गोविंद आतिश कुमार सिंह ने बताया कि चिन्हित लोगों की गिरफ्तारियां जारी रहेंगी.

जानकारी के मुताबिक, जागृति हॉस्पिटल में भर्ती एक युवती से वार्ड ब्वाय द्वारा रेप के मामले में शनिवार को इलाकाई लोग आक्राशित हो गए थे. गुस्साई भीड़ ने हाइवे जाम कर पुलिस और अस्पताल पर हमला बोल दिया. भीड़ में शामिल उपद्रवियों ने पुलिस के जवानों को घसीट-घसीट कर मारा. उन्हें काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

इतना ही नहीं, फजलगंज के इंस्पेक्टर आर.के. सिंह को अपनी पिस्टल निकाल कर हवाई फायरिंग तक करनी पड़ी थी. उपद्रवियों की पिटाई में दारोगा समेत कई पुलिस कर्मियों को गंभीर रूप से घायल हो गए. मौके पर पहुंची डीआईजी सोनिया सिंह ने पुलिस पर हमला करने वालों पर सख्त कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए, इसके बाद कार्रवाई शुरू हुई.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share