Breaking News:

होली से पहले खून की होली का एलान. समाजवादी पार्टी के जियाउर रहमान ने UP के अधिकारियो की लाशें बिछाने का एलान किया

अगर कोई इनको डरा या सहमा हुआ कहे तो क्या इस वीडियो के बाद भी उसके दावे में दम माना जाएगा .. यहाँ पर धमकी अगर आम आदमी को दी गयी होती तो भी इसको अपराध कहा जाता लेकिन जब धमकी उन प्रशासनिक अधिकारियो को दी गयी हो जो प्रदेश की व्यवस्था की रीढ़ हैं तो इसको अपराध नहीं बल्कि वो दुस्साहस कहा जाएगा जिसका अंतिम समाधान कड़ी से कड़ी कानूनी कार्यवाही ही हो सकती है . अफ़सोस की बात ये है कि ऐसे बयानों पर कथित बुद्धिजीवी वर्ग खामोश रहता है .

ज्ञात हो कि चुनावो से पहले तमाम राजनैतिक दल और उसके कार्यकर्ता अपनी जीत के बाद के तमाम सतरंगी सपने जनता को दिखा रहे हैं लेकिन ठीक उसी समय एक ऐसी पार्टी भी है जिसका एक कार्यकर्ता खुल कर नरसंहार की धमकी दे रहा है और वो धमकी सीधे सीधे प्रशासनिक अधिकारियो को मिल रही है .. ये कार्यकर्ता समाजवादी पार्टी का है और अखिलेश यादव की सरकार में नम्बर २ की हस्ती रखने वाले आज़म खान का बेहद करीब .

इसका नाम जियाउर रहमान है जो रामपुर जिले का रहने वाला है . यद्दपि मर्यादापुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम के नाम पर बने इस जिले में ऐसे जहरीले बनायबाज़ की हरकतें किसी दानवी कृत्य से कम नहीं मानी जायेगी . वो भी उस आजम खान के समर्थन में जिन्होंने कभी अपनी ताकत के दम पर तमाम सरकारी जमीने कब्जा कर डाली हैं और अब उसको हटाए जाने पर अपना वही मजहबी कार्ड खेल रहे हैं जो अक्सर गिरफ्तार होने के बाद तमाम संदिग्ध खेला करते हैं .

सुदर्शन न्यूज ने ऐसी ही हरकतों को लैंड जिहाद का नाम दिया है जिसके मुखिया तो खुद पूर्व मंत्री आजम खान ही साबित होते जा रहे हैं . उनके तमाम अवैध निर्माणों पर प्रशासन का बुलडोजर चल चुका है और कई अन्य बाकी भी बताये जा रहे है ..फिर जब सरकार अपनी ही जमीन वापस ले रही है तो उन्ही सरकारी अधिकारियो के नरसंहार की धमकियां भी आ रही हैं . विदित हो कि रामपुर के यूनानी अस्पताल पर पूर्व मंत्री आजम खान के कब्जे को हटवाने के बाद सपा समर्थक का एक वीडियो वायरल हुआ है।

अब तक मिली जानकारी के अनुसार ये वीडियो लगभग 4 दिन पुराना है जो अब तेजी से वायरल हो रहा है . इस वीडियो में जियाउर रहमान नाम का एक उन्मादी मंच से जिला रामपुर के प्रशासनिक अधिकरियो की लाशें बिछाने की धमकी दे रहा है .  सबसे हैरानी का पहलू ये है कि इतने के बाद भी रामपुर के सपा समर्थक अपने बयानबाज की जहरीली जुबान बंद करवाने के प्रयास के बजाय खुद प्रशासन के खिलाफ ही विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं . जबकि उन्हें भी पता है कि उनके ही साथी  जियाउर रहमान ने लाउडस्पीकर पर बोलते हुए रामपुर में प्रशासन द्वारा इमारतें तोड़ने का जिक्र करते हुए प्रशासन को धमकी भरे अल्फाज कहे थे।

वीडियो में सपा समर्थक जियाउर रहमान ने प्रशासन को भाषण में धमकाते हुए कहा कि दावा करता हूं अगर जिला प्रशासन ने किसी इमारत को हाथ लगाया तो अब यहां पर लाशें बिछेंगी और वह लाशें प्रशासन के लोगों की होगी। इस भाषण के वीडियो वायरल हो जाने पर पुलिस मीडिया सेल ने वीडियो के बारे में अधिकारियों को अवगत कराया, जिसके बाद भाषणकर्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Share This Post