राजस्थान का जयपुर, जहाँ हिन्दुओं को दिखाकर फिर लहराई गईं तलवारें.. आखिर क्या होने वाला है भविष्य में ?


आम तौर पर शांत मानी जाने वाली वीरभूमि राजस्थान की राजधानी जयपुर इस समय मजहबी उन्मादियों के उन्माद का एक प्रमुख केंद्र बन गई है. ये भी मान सकते हैं कि कांग्रेस शासित राजस्थान में मजहबी उन्मादियों के नापाक हौसले सातवें आसमान पर दिखाई दे रहे हैं.  कुछ दिनों  पहले ही जयपुर में  मजहबी उन्मादियों ने शिवभक्त कांवड़ियों पर चरमपंथी हमला किया था, वाहनों में तोड़फोड़ तथा आगजनी की थी, जिसके बाद 10 से ज्यादा थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया था, इन्टरनेट भी बंद करना पड़ा था.

एक बार फिर ऐसी ही स्थिति दोहराई गई है जयपुर के मोतीडूंगरी थाना भोमियाजी की छतरी के पास आनंदपुरी में जहाँ मजहबी उन्मादियों ने हिन्दुओं को दिखाकर नंगी तलवारें लहराईं तथा भड़काऊ बयानी भी की. खबर के मुताबिक़, लालचंद सैनी की इलाके में ही जूस की दुकान है. इस दुकान के बाहर सैनी ने एक कार वॉशिंग का पोस्टर लगा रखा है. रात करीब साढ़े 8 बजे आनंदपुरी में मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग आए और पोस्टर फाड़ने के लिए धमकी देने लगे.

लालचंद सैनी ने पोस्टर फाड़ने से रोका तो उन्मादियों ने नंगी तलवारें निकाल लीन तथा अंजाम भुगतने की धमकी की. इसके बाद हिन्दू समुदाय के लोग भी लालचंद सैनी के समर्थन में सामने आने लगे तो उन्मादी वहां से चले गये. बताया गया है कि इसके बाद लालचंद ने पुलिस स्टेशन जाकर मामला दर्ज कराया. जब वह वापस आ रहा था तो उन्मादियों की भीड़ ने उसे घेर लिया. इसके बाद क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा हो गई. सूचना मिलते ही भरी संख्या में पुलिस बल पहुँच गया तथा स्थिति को नियंत्रण में लिया. थानाप्रभारी जोगेन्द्र राठौड़ ने बताया कि पुलिस ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है और ऐहतियात के तौर पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share