Breaking News:

ट्रैफिक पुलिस में तैनात था शमीम और योगी को दे रहा था गालियाँ… सरकार ही बदली, कुछ सोच नहीं

उत्तर प्रदेश में योगेई आदित्यनाथ जी की सरकार को आये हुए डेढ़ वर्ष से ज्यादा समय हो चुका है. लेकिन आज सरकार बदलने के बाद भी उन्मादी मानसिकता के लोगों की सोच है कि बदलने का नाम ही नहीं ले रही है. इसी उन्मादी मानसिकता का परिचय दिया उत्तर प्रदेश ट्रैफिक पुलिस में तैनात सिपाही शमीम ने..जिसने अपनी ड्यूटी के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी तथा भारतीय जनता पार्टी को सरेआम गालियां दी.

मामला उत्तर प्रदेश के बरेली जिले का है. खबर के मुताबिक़, भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष सुधांशु सक्सेना शुक्रवार शाम करीब चार बजे बाइक से एक कार्यकर्ता के साथ डेलापीर की तरफ जा रहे थे. आरोप है कि चौराहे पर ट्रैफिक सिपाही शमीम ने उन्हें रोक लिया. सुधांशु सक्सेना का कहना है कि उन्होंने कागज निकालते हुए अपना परिचय भी सिपाही को दिया लेकिन भाजपा का नाम सुनते ही शमीम उखड़ गया. शमीम ने सुधांशु को खरी-खोटी सुनाई, भाजपा व मुख्यमंत्री योगी जी के लिए भी अपशब्द कह डाले. इसी बात पर विवाद हो गया. जानकारी होने पर भाजयुमो के महानगर उपाध्यक्ष ईशान उर्फ ईशू व तमाम कार्यकर्ता आ गए, इतने में ट्रैफिक सिपाही वहां से चला गया.

इसके बाद भाजपा नेता एसपी ट्रैफिक के आफिस मगर वह नहीं मिले तो एसपी सिटी अभिनंदन सिंह के ऑफिस पहुंचे. यतिन भाटिया, मोहित कपूर, रूपेन्द्र पटेल समेत तमाम कार्यकर्ता भी इकट्ठे हो गए, मगर एसपी सिटी भी नहीं मिले. बाद में उन्होंने सीओ ट्रैफिक को बातचीत के लिए भेजा. सीओ से बातचीत के दौरान महानगर अध्यक्ष केएम अरोरा व उमेश कठेरिया ने कहा कि सिपाही की मानसिकता भाजपा के खिलाफ है, मुख्यमंत्री जी के खिलाफ है, इसलिए उसे बर्खास्त किया जाए. भाजपा नेताओं ने कहा कि सिपाही उन्मादी मानसिकता से ग्रसित है, जिसको तत्काल हटाया जाना चाहिए. भाजपा नेताओं की बात सुन सीओ ने जांच कर कार्यवाई का भरोसा दिया.

Share This Post