सुदर्शन न्यूज की खबर पर सत्ता की मुहर..”बुलंदशहर में सब सही है” का ट्वीट करने वाले बुलंदशहर के पुलिस अधीक्षक की कप्तानी गयी.. गौ हत्यारों के बजाय मृतक सुमित के ही घर पर बरसा रहे थे कहर

आखिरकार उत्तर प्रदेश के शासन ने सक्रियता दिखानी शुरू कर दी है और एक एक के उन सभी मुद्दों पर न्याय होना शुरू हो गया है जो अपनी ताकत के बल पर छिपा रहा था बुलंदशहर का प्रशासन..सिर्फ और सिर्फ सुदर्शन न्यूज ने पूरे प्रमाण के साथ दिखाया था बुलंदशहर में हुए इत्सेमा में हुई बदइंतजामी को जिसके चलते पूरे बुलंदशहर को 3 दिन तक झेलनी पड़ी थी घोर समस्या .. सुदर्शन न्यूज ने बुलंदशहर के सांसद और विधायक के हवाले से खबर दिखाई थी उस सच्चाई को जिसको छिपाना चाह रहे थे वहां के अधिकारी पर आखिरकार असफल रहे और अंत मे हुई सत्य की जीत ..

ज्ञात हो कि गौ हत्या का केंद्र बन चुके बुलंदशहर में गौ हत्यारो पर नरम और गौ सेवको पर गर्म रहे बुलंदशहर के पुलिस प्रशासन पर अब गाज गिरनी शुरू हो गयी है .. सबसे पहले बुलंदशहर के हिंसा से प्रभावित क्षेत्र स्याना के चौकी इंचार्ज और DSP को हटाया गया है , उसके बाद अब सीधे सीधे पुलिस अधीक्षक की कप्तानी चली गयी है जो ट्वीट कर के सबको बता रहे थे कि बुलंदशहर में सब ठीक चल रहा है.. जबकि उधर स्याना गांव के मृतक सुमित के ही घर वो भारी फोर्स भेज कर उनके परिजनों को पिटवा रहे थे ..

बुलंदशहर बवाल में गाज गिरनी शुरू हो गयी है ..स्याना सीओ सत्य प्रकाश शर्मा और चौकी इंचार्ज चिंगरावटी सुरेश कुमार हटाए गए ।। एडीजी इंटेलिजेंस की शुरुआती रिपोर्ट के बाद शुरू हुई कार्यवाही.. बुलंदशहर के वर्तमान अधीक्षक कृष्ण बहादुर सिंह को अब पुलिस महानिदेशक मुख्यालय लखनऊ से सम्बद्ध कर दिया गया है जबकि तेजतर्रार छवि के प्रभाकर चौधरी जो 2010 बैच के IPS है और वर्तमान में सीतापुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हैं , को बुलंदशहर भेजा गया है.. अभी और अभी अन्य अधिकारियों पर गाज गिरनी तय मानी जा रही है ..

Share This Post