राजस्थान के DGP ने भरोसा जताया है कि वो फांसी दिलाएंगे शंभू लाल रैगर को

राजस्थान के डीजीपी ओपी गहरोत्रा ने ऐलान किया है कि राजसमंद में लव जिहाद के नाम पर हत्या करने वाले शंभू लाल रैगर को पुलिस फांसी की सजा

दिलवाएगी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देश पर राज्य के डीजीपी मौके का दौरा करने के लिए राजसमंद गए थे। डीजीपी ने मृतक मोहम्मद अफराजुल उर्फ

मोहम्मद भुट्टा के परिवार से मुलाकात की और उन्हें वसुंधरा सरकार की तरफ से दिए गए 5 लाख का चेक भी दिया।

इसके बाद डीजीपी ने तमाम पुलिस

अधिकारियों की मीटिंग ली और पूरे मामले की जानकारी ली।
दरअसल राज्य सरकार के लिए यह मामला चुनौती बना हुआ है। इसी के तहत राजसमंद में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई। कुछ मुस्लिम समाज के लोग भुट्टा की

हत्या के खिलाफ रैली निकालना चाहते थे, जिससे माहौल बिगाड़ने की आशंका थी। इसके बाद बड़ी संख्या में राजसमंद जिला उसके आसपास के इलाकों में पुलिस

बल की तैनाती की गई है। डीजीपी ने कहा कि किसी भी सूरत में राज्य की कानून व्यवस्था खराब नहीं होने देंगे।

इस मामले में जितनी जल्दी हो सके चार्जशीट

सीट पेश करके आरोपी को फांसी की सजा दिलवाई जाएगी। फांसी की सजा इस लिए कि ये नजीर बन जाए कि कोई भी इस तरह का घिनौना काम कभी नहीं

करे।
बताया जाता है कि वसुंधरा राजे इस घटना से नाराज हैं और उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिया है कि वह मौके पर जाएं और पूरी पड़ताल कर खुद इसकी रिपोर्ट

मुख्यमंत्री सौंपे। यही वजह है डीजीपी 2 दिन से राजसमंद में रुके हुए हैं।

दूसरी तरफ पुलिस ने आरोपी के भांजे से भी पूछताछ की है। पुलिस उससे पूछ रही है कि

वो क्यों प्लान में शामिल हुआ और क्यों वीडियो बना रहा था। पुलिस आरोपी शंभू के संपर्क में रहने वाले लोगों से भी पूछताछ कर रही है।
आपको बता दे कि कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है। इसमें आरोपी शंभू दयाल मृतक भुट्टा शेख को पहले मारता पीटता है। इसके बाद उसे

धारदार हथियार से काट देता है। उसका इतने से भी मन नहीं भरता, तो अपनी स्कूटी से पेट्रोल निकालकर उस पर छिड़कता है। फिर उसे आग के हवाले कर देता

है। इस वारदात से इलाके में सनसनी है।

Share This Post

Leave a Reply