बिल को चुनौती देने के लिए बीवी को दिया तीन तलाक.. बोला- “हलाला भी करेंगे.. बुला जिसे बुलाना हो”

तीन तलाक अब कानूनन अपराध बन चुका है. कांग्रेस सहित संयुक्त विपक्ष के तमाम अड़ंगों तथा विरोध के बाद भी केंद्र की मोदी सरकार ने 30 जुलाई को लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी तीन तलाक क़ानून को पास करा लिया. तीन तलाक बिल के पास होने के बाद जहाँ मुस्लिम महिलाओं में खुशी की लहर है तो वहीं दूसरी तरफ इस्लामिक मजहबी कट्टरपंथी तीन तलाक बिल के पास होने के बाद भड़के हुए हैं तथा सीधे सीधे संविधान व कानून को चुनौती देते हुए नजर आ रहे हैं.

ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नॉएडा के दनकौर से सामने आया है जहाँ तीन तलाक बिल पास होने के बाद एक मुस्लिम व्यक्ति ने अपनी बीवी को तीन तलाक दे दिया. अब महिला का शौहर तथा ससुरालीजन महिला पर जबरन हलाला का दवाब बना रहे हैं. इसके बाद महिला के परिजन एसएसपी दफ्तर पहुंचे और शिकायत दर्ज करवाई. पीड़ित महिला शबाना ने शिकायत दर्ज करते हुए कहा है कि उसके शौहर इकबाल ने उसे तीन तलाक बोलकर घर से निकाल दिया तथा अब देवर से हलाला का दवाब बना रहा है.

जानकारी के मुताबिक, 2005 में शबाना और इकबाल का निकाह हुआ था. दोनों के तीन बच्चे भी हैं. शादी के बाद से इकबाल शराब पीकर पत्नी के साथ मारपीट करता था. कई बार उसने दहेज की मांग भी की जिसे पूरा कर दिया गया, लेकिन उसने पत्नी के साथ मारपीट बंद नहीं की. 27 जुलाई को उसने शबाना के साथ मारपीट की और फिर जब तीन तलाक बिल पास हो गया, उसके बाद उसे तीन बार तलाक बोल कर घर से निकाल दिया. इकबाल के परिजन अब उस पर हलाला का दबाव बना रहे हैं. एसपी देहात रणविजय सिंह की मानें तो पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. मामले की जांच कर विधिक कार्रवाई की जायेगी,  आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW