गायों का क़त्ल करके भाग रहे थे दिलबाज तथा उस्मान.. लेकिन ज्यादा दूर नहीं भाग पाए क्योंकि मेरठ पुलिस की गोली की रफ़्तार उनसे ज्यादा थी


दिलबाज तथा उस्मान ने सोचा था कि वह गायों का क़त्ल करके पुलिस की गिरफ्त में नहीं आयेंगे तथा बचकर भाग निकलेंगे. लेकिन वो नहीं जानते थे कि उत्तर प्रदेश की मेरठ पुलिस की बंदूकों से निकली गोली की रफ़्तार इन बदमाशों की रफ़्तार से काफी तेज थी. खबर के मुताबिक़, कल रविवार को सुबह ही गोतस्कर बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हो गयी. इस दौरान गौतस्करों ने भागने की कोशिश तो की लेकिन इससे पहले कि वह ज्यादा दूर भाग पाते, मेरठ पुलिस की बंदूक से निकली गोलियां उनमें धंस चुकी थीं.

एनकाउंटर में गोली लगने से घायल दोनों बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. बदमाशों के पास से एक सेन्ट्रो कार 03 गाय के मीट से भरी हुई, एक कार, तमंचा और कारतूस बरामद हुए हैं. जानकारी के अनुसार थाना दौराला क्षेत्र में सुबह साढ़े पांच बजे सरधना- दौराला रोड पर सेंट्रो कार सवार बदमाशों को विशेष सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर थानाध्यक्ष दौराला के द्वारा रोकने का प्रयास किया लेकिन कार सवार बदमाशों ने उनकी गाड़ी में टक्कर मार दी. इसके बाद वायरलेस पर घटना की खबर बता दी गयी.

जिसके बाद क्षेत्राधिकारी दौराला ने घटना स्थल पर पहुंच कर मोर्चा संभाला. जिसके बाद बदमाश फायरिंग करने लगे. पुलिस को भी जबावी फायरिंग करने पड़ी, जिसमें, पुलिस की गोली से दिलबाज पुत्र सलीम निवासी दधेडू, थाना चरथावल जनपद मुजफ्फरनगर और उस्मान पुत्र शिबू निवासी नगला जावली थाना रतनपुरी, जनपद मुजफ्फरनगर घायल हो गये. मौके से मेरठ पुलिस ने गौ-तस्करों के कब्जे से एक सेन्ट्रो कार 03 गाय के मीट से भरी हुई, एक तमंचा और कारतूस भी बरामद हुए हैं. हालांकि बदमाशों को पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया था.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...