Breaking News:

कश्मीर को निशाना बना रहे थे पाकिस्तानी तो बंगाल में पैठ बना चुके थे बंगलादेशी.. गिरफ्तार हुए 2 दुर्दांत बंगलादेशी जो सिर्फ घुसपैठी नहीं बल्कि आतंकी भी थे

NRC के विरोधियो को आखिर जो भी समस्या रही हो इस प्रारूप से लेकिन बीच बीच में ऐसी तमाम घटनाएँ हो रही हैं जो साफ़ साफ चेतावनी देती हैं कि राष्ट्रीय सुरक्षा से बढ़ कर कोई भी दूसरा विषय नहीं होना चाहिए.. कश्मीर के बाद जिस राज्य पर आये दिन भारत के अन्य प्रदेशो के लोगों का ध्यान जाता है, वो है पश्चिम बंगाल . वो प्रदेश जो ममता बनर्जी के तथाकथित सेकुलरिज्म वाले शासन के चलते हिन्दुओ पर होने वाले अत्याचार के चलते अक्सर चर्चा में रहता है .

इस बार धोखा खा गया अमेरिका जैसा देश भी.. इधर तालिबान में बुलाया शांतिवार्ता के लिए उधर हो गया कुछ और ही ..जबकि उन्होंने कहा था कि वो सुधर गये हैं ..

अब उसी पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार हुए हैं 2 दुर्दांत बंगलादेशी आतंकी. ये दोनों जिस देश में शरण पाए थे उसी देश के खिलाफ रच रहे थे बड़ी साजिश और उस साजिश को अंजाम देने के पहले ही चढ़ गये हैं पश्चिम बंगाल पुलिस के हत्थे .. गिरफ्तार होने आतंकी बंगलादेश के जिहादी समूह जमात-उल-मुजाहिद्दीन (JMB) के बताये जा रहे हैं  जिनकी गिरफ्तारी मुस्लिम बहुल और बंगलादेशी घुसपैठ से प्रभावित  मालादा जिले के सम्सी इलाके से हुई है. पुलिस को इन दोनों के पास से आपत्तिजनक साहित्य भी बरामद किया है, जिनमें इनका मोबाइल फोन भी है.

पहले भाजपा अध्यक्ष पर किया हमला, अब भाजपा सांसद पर लाठीचार्ज.. एक प्रदेश ऐसा भी जहाँ निशाने पर हैं भाजपाई, बूथ नेता से सांसद तक

इन दोनों का इनपुट 2 सितंबर को गिरफ्तार एक अन्य बंगलादेशी आतंकी अबुल काशीम से पूछताछ के बाद मिला था जिसके बाद इनकी तलाश जारी थी .. अब तक मिली जानकारी के अनुसार इन दोनों संदिग्ध आतंकियों के नाम  अब्दुल बारी और निजामुद्दीन खान है. दोनों की उम्र 28 साल है और दोनों ही पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिले के रहने वाले है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये दोनों उत्तर दिनाजपुर में जेएमबी के लिए मेन ऑर्गेनाइजर के रूप में काम करते थे.  पुलिस कोर्ट से दोनों आरोपियों के लिए रिमांड की मांग करेगी.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

 

Share This Post