कभी देखा है आपने ऐसा दोगला रूप.. पुलिस ने ही बचाई जान और अब पुलिस के ही खिलाफ प्रदर्शन.. मामला लव जिहाद का

बीते दिनों उत्तराखंड के रामनगर के गर्जिया से लव जिहाद का एक बेहद ही सनसनीखेज मामला सामने आया था जहाँ एक लावी जिहादी मुस्लिम युवक हिन्दू युवती के साथ मन्दिर के पास घूम रहा था जिसके बाद हिन्दू समुदाय के लोगों ने उस लव जिहादी के साथ हाथापाई की थी व् मौके पर पहुंचकर उत्तराखंड पुलिस के जवान ने उस लव जिहादी को वहां से निकाला था. एक तरफ जहाँ पुलिस ने लव जिहादी को वहां से निकाला वहीं हिन्दू समुदाय के लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया था. लेकिन इस सबके बाद भी अब मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पुलिस थाने का घेराव किया तथा पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया.

खबर के मुताबिक, गर्जिया मंदिर क्षेत्र में हुए विवाद को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मारपीट करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई को लेकर ठाणे के कोतवाल का घेराव किया. रविवार को कोतवाली पहुंचे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कोतवाल विक्रम राठौर को ज्ञापन सौंपा व् पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. बटा दें कि बजरंग दल, विहिप कार्यकर्ताओं ने 22 मई को गर्जिया मंदिर के पास एक लव जिहादी को पकड़ा था जो हिन्दू युवती के ही साथ था. इसके बाद लोगों ने युवती को लव जिहाद की वास्तविकता के अवगत कराकर मुस्लिम युवक के साथ हाथापाई की थी जिसे लेकर पुलिस ने हिंदुओं क खिलाफ मामला दर्ज किया था.

जिस पुलिस ने लव जिहादी को भीड़ के आक्रोश से सुरक्षित बचाया तथा हिन्दू समाज ने भी लव जिहादी को आसानी से पुलिस को सौंप दिया था, कोई अभद्रता नहीं की थी. इसके बाद भी मुस्लिम समुदाय को पुलिस से शिकायत है कि उन्होंने लव जिहादी को बचाने पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया, थाने के कोतवाल ला घेराव किया जबकि कोतवाल का कहना है उन्होंने मामला दर्ज कर लिया है तथा जाँच जारी है. इसके बाद भी मुस्लिम समुदाय द्वारा कोतवाल का घेरा समझ से परे है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW