न हुए फेरे, न हुआ निकाह, जानिये कैसे इस मुस्लिम-हिंदू जोड़े ने अनोखी शादी करके तोड़ दी धर्म की दीवार

अब जाति व धर्म की दीवार तोड़कर इस
नवविवाहित जोड़े ने एक अनोखी शादी करके मानवता को ही बढावा दिया। क्योकि इन्होने रिश्तो
को महत्व दिया है।

जिसमे मुस्लिम लड़का जुनैद शेख और एक
हिंदू लड़की गरिमा जोशी दोनों धूमधाम
से परिणय सूत्र में बंध गए, अब आप सोच
रहे होंगे कि इसमें नया क्‍या है,
ऐसा तो बहुत बार हो चुका है, तो आपको
बता दें कि इस शादी में न तो फेरे
हुए और न ही निकाह हुआ, ये बात हैरान कर
देने वाली है, फिर शादी हुई तो कैसे हुई।

इस मामले में जुनैद ने कहा है कि हम न
तो निकाह करने और न ही फेरे लेने को लिए इकठ्ठे हुए, यहां हम सिर्फ और सिर्फ दो संस्कृतियों और दो परिवारों के मिलन के
लिए एक उत्सव मनाना चाहते थे।

बहुत समय से एक-दूसरे को मिलने के बाद दोनों
के परिवार वाले इस शादी के लिए तैयार हो गए, जुनैद कहते हैं यह मेरी जिंदगी का
सबसे अच्‍छा दिन था।

इस दिन को अपनी जिंदगी का सबसे यादगार
दिन बनाने के लिए इस जोड़े ने सभी
धार्मिक समारोहों से दूर रहने का फैसला
किया और तय किया कि इस दिन पर दो
संस्कृतियों के मिलन का उत्‍सव मनाया
जाए।

दोनों ने इस दिन को यादगार बनाने के लिए
अपनी पूरी जर्नी को वीडियो के द्वारा कैद भी करवाया, यह वीडियो 17 अप्रैल को सोशल
मीडिया पर पोस्‍ट किया गया
था,
जिसे अब तक 37000
लोग देख चुके हैं आप भी देखिए और एंज्‍वॉय कीजिए।
 

 

 

Share This Post