बरेली से एक महिला की गुहार… तीन तलाक कानून के बाद इस प्रथा पर हो प्रहार

इस्लाम में महिलाओं की जिंदगी बर्बाद करने वाली एक एक कुप्रथा तीन तलाक तो सुप्रीम कोर्ट पहले ही बैन कर चुका है, जिसके बाद मोदी सरकार ने तीन तलाक के खिलाफ क़ानून बनाते हुए बोल लोकसभा से पास करा दिया. हालाँकि विपक्षी पार्टियों की जुगलबंदी के कारण तीन तलाक बिल राजयसभा से पास नहीं हो सका है. हालाँकि इसके बाद भी मोदी सरकार तीन तलाक पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए प्रतिबद्ध है.

तीन तलाक पर रोक के लिए केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता के बीच अब आवाज उठी है एक और इस्लामिक कुप्रथा के खिलाफ और ये आवाज उठाई है इस्लाम की आला हजरत दरगाह बरेली के खानदान की बहू निदा खान ने जो स्वयं इस कुप्रथा का शिकार हो चुकी है. उत्तर प्रदेश के बरेली में दरगाह आला हजरत खानदान की बहू निदा खान ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से दूसरी शादी पर प्रतिबंध लगाने की मांग उठाई है। निदा खान ने मुख्यमंत्री को चिट्ठी भेजकर तीन तलाक कानून को जल्द पास कराने की मांग भी की है. निदा खान ने कहा कि शौहर ने तीन तलाक दी है इस मामले में उन पर भ्रूण हत्या का केस भी किया गया जिस पर पुलिस ने चार्जशीट लगा दी है लेकिन चार्जशीट के बाद भी शीरान रजा खां की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

निदा खान ने बताया कि मुख्यमंत्री से दूसरी शादी करने पर प्रतिबंध लगाने की मांग भी उठाई गई है. पहली पत्नी के रहते हुए दूसरी शादी करने वाले शौहर पर सख्त कानून होना चाहिए. इसके लिए मुख्यमंत्री से मांग की गई है. तीन तलाक कानून को जल्द से जल्द लागू कर महिलाओं को इंसाफ दिलाने की मांग भी की गई है. निदा खान का कहना है कि चाहे तीन तलाक हो, बहुविवाह हो या फिर हलाला हो.. ये सब महिलाओं की जिंदगी को बर्बाद करने के लिए है, इसलिए वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से निवेदन करती हैं कि वह बहुविवाह पर प्रतिबंध लगाने के लिए कानून लगाए.

Share This Post