कमजोर व गिरती बिल्डिंगों की जड़ को खोज निकाला गाजियाबाद पुलिस ने. नकली सीमेंट की फैक्ट्री पर छापा

एक के बाद एक धराशाई हो रही बिल्डिंगों की जड़ को तलाशती हुई आखिरकार गाजियाबाद पुलिस ने खोज ही निकाले वो स्थान जहाँ सीधे सीधे जनता को गुमराह करते हुए नकली सीमेंट की फैक्ट्रियां चल रही है .. आम जनता इन जालसाजों के चक्कर मे आ जाती थी और बाद में इन्ही के द्वारा खड़े मकान जरा सा भी हिलने या पानी पड़ने से भरभरा कर गिरना शुरू हो जाते थे और होती थी व्यापक जन व धन की हानि .. प्रशंसा की पात्र है यहां गाजियाबाद की पुलिस जिसने सीधे सीधे उन कारकों को तलाशा जो हैं इनकी मूल जड़ों में ..

विदित हो कि उत्तर प्रदेश के NCR में आने वाले जिले गाजियाबाद के थाना कविनगर सतर्क व चौकन्नी पुलिस ने नकली सीमेंट बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है. इस औचक छापेमारी में एक ट्रक नकली सीमेंट एवं सीमेंट बनाने के उपकरण सहित एक युवक गिरफ्तार किया है जबकि इसका मुख्य मालिक अभी फरार है जिसे जल्द ही गिरफ्तार करने का दावा गाजियाबाद पुलिस कर रही है .. समाज की पहली जरूरत रोटी, फिर कपड़ा व मकान होती है जिसके निर्माण में ये नकली सीमेंट होने से वही पूरे परिवार की सामूहिक मौत का कारण बन रहे थे जिस जड़ से खोज निकाला है गाजियाबाद की पुलिस ने और इसी के चलते हर तरफ उसकी हो रही है मुक्त कंठ से प्रशंसा ..

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री गाजियाबाद वैभव कृष्ण द्वारा जनपद में चलाए जा रहे नकली सीमेंट बनाकर बेचने बाले तस्करों की धरपकड़ अभियान के अंतर्गत थाना प्रभारी कवि नगर प्रदीपकुमार त्रिपाठी को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम बम्हेटा के पास नकली सीमेंट बनाकर बेचने का काम बड़े पैमाने पर चल रहा है. इस सूचना पर थाना प्रभारी कविनगर द्वारा सव इंस्पेक्टर प्रजेंत त्यागी के नेतृत्व में एक टीम बनाकर अधिक से अधिक बरामदगी ब गिरफ्तारी हेतु मुखबिर के बताए स्थान पर भेजा.

उक्त टीम द्वारा सुनील पुत्र सुखवीर निबासी बम्हेटा के खेत मे बने गोदाम पर दबिश देकर गोदाम से एक ब्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. गोदाम का मालिक एवं दो लेबर दीवार कूद कर भाग गए. गोदाम की तलाशी पर एक टाटा 407 बन्द बॉडी एवं सीमेंट बनाने के उपकरण तथा बनी हुई एवं अधबनी 198 बोरी सीमेंट बरामद की गई.

पूछताछ पर गिरफ्तार अभियुक्त ने बताया कि नकली सीमेंट के गोदाम का मालिक अकरम है जो पुरानी सीमेंट हरियाणा दिल्ली ब गाज़ियाबाद से सस्ते रेट में खरीदकर उसको पीस कर राख मिलाकर नए सीमेंट के बोरे में भरकर सप्लाई करते हैं. बरामद टाटा 407 सुनील की है जो अकरम ने किराये पर ले रखी है. इस सम्बंध में थाना कविनगर पर मु.अ.स. 1526/2018 धारा 418,420,467,468,471,34 IPC ब 60/63 कॉपीराइट एक्ट पंजीकृत कराया गया.

Share This Post