बारात से 7 साल की मासूम को उठा ले गया अनीस जो खेत में मिली चीखते हुए. प्रार्थना करें अस्पताल में भर्ती उस मासूम के लिए #HangAnis

एक बार फिर से कुचला गया एक मासूम का जीवन और फिर से तोडा गया एक विश्वास एक वहसी दरिन्दे द्वारा .. वो समय था बारात का जब आधे से ज्यादा लोग दूल्हे दुल्हन आदि को देख रहे थे और सब ख़ुशी ख़ुशी नव दम्पति को सुखी रहने का आशीर्वाद दे रहे थे तब ठीक उसी समय दरिंदा अनीस तलाश रहा था हवस भरी नजरों से एक शिकार और उसको अपनी दरिंदगी मिटाने के लिए मिली एक 7 साल की मासूम . इस मामले में पीडिता का परिवार हिन्दू होने के नाते अभी तक तथाकथित धर्मनिरपेक्षो और बुद्धिजीवियों के बयानों में नहीं आया . हैरानी की बात ये है कि इस मामले में बॉलीवुड के तथाकथित स्टार भी चुप हैं . यद्द्पि इसमें सहिष्णु हिन्दू समाज ने भी अपने धैर्य का परिचय दिया है और कानून पर पूरा विश्वास करते हुए अनीस को फांसी की मांग की है . 

विदित हो कि ये घटना ११ जुलाई दिन मंगलवार की है . स्थान है उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर का शिकारपुर थाना .. यहाँ के तहसील परिसर में आई एक बारात में एक परिवार अपने 7 साल की भांजी के साथ बारात में एक मेहमान की हैसियत से आया था . इसी बारात में वाहन संख्या UP 13 AP 2735 को बुलंदशहर के ही गाँव मुरादपुर थाना अहमदगढ़ एक ड्राइवर की हैसियत से आया था . अनीस के अब्बा का नाम सगीर है जो अपने बेटे की ही तरह अपने इलाके में माना जाता है . इस ड्राइवर पर काफी विश्वास करते थे बाराती और ये उनकी नजर में एक शरीफ और नेक इंसान था लेकिन इन्हें नहीं पता था कि ये आगे क्या करने की सोच रहा है . 

अनीस ने उसी बारात में आई एक 7 साल की बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाने की ठान ली थी . जैसे भी भीड़ में बच्ची अलग हुई वैसे ही अनीस उसको उठा कर अपने साथ ले गया . बच्ची को रास्ते में ले जाते कुछ ने देखा भी लेकिन किसी को शक इसलिए नहीं हुआ क्योकि अनीस को सब उनके साथ का मान रहे थे . बाद में अनीस बच्ची को खेतों में ले गया जहाँ उसके साथ कुकर्म किया . बच्ची चीख न सके इसके लिए उसने बच्ची का मुह दबा दिया था . बाद में अनीस भाग गया . लहुलुहान हालत में बच्ची को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहाँ उसका इलाज़ चल रहा है . आरोपी अनीस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है 

Share This Post