मोहम्मद एहसान उस गाँव में फेरी वाला बन कर आता था जिससे औरतें खरीदती थी सामान. पर उसकी नजर होती थी हिन्दू बच्चियों पर और फिर शिकार बनी 8 साल की वो मासूम

कश्मीर में जहाँ कैंसर जैसे दरिंदों ने एक 9 साल की बच्ची का बलात्कार कर के उसकी आँखों को निकाल लिया और उसके गुप्तांगो में तेज़ाब डाल दिया , उसी समय उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ में एक और दरिंदा मोहम्मद एहसान लूट रहा था एक 8 साल की बच्ची की इज़्ज़त . उस एहसान नाम के दरिंदे को पीड़ित बच्ची के परिवार वाले और उस गाँव वाले फेरीवाला मान कर अपने गांव में आने देते थे और उस से सामान भी खरीदते थे . लेकिन उन्हें नहीं पता था की एहसान वो दरिंदा है जिस पर किसी भी प्रकार का एहसान करने योग्य नहीं था . उन तमाम गाँव वालों का आखिरकार टूट गया भरोसा . 

ज्ञात हो की एक और नया मामला है उत्तर प्रदेश के संवेदनशील माने जाने वाले जिले आजमगढ़ से . यहाँ पर एक और दरिंदे ने अपनी दरिंदगी दिखाई है और हवस का शिकार बना डाला है एक आठ साल की बच्ची को .  इस से पहले गाँव वालों को कुछ जागरूक लोग बाहरी फेरीवालों से सतर्क रहने की सलाह देते थे लेकिन गांववालों ने मानवता और गरीबी आदि को देखते हुए उन तमाम सलाहों को अनसुना किया जिसके चलते एक मासूम की इज़्ज़त तार तार हो गयी है . फेरीवाले ने वारदात को उस समय अंजाम दिया जब मासूम अपनी बड़ी बहन के साथ खेत की रखवाली कर रही थी। बड़ी बहन तो आरोपी के चंगुल से भाग गई लेकिन उसने छोटी बहन के साथ रेप किया।

बड़ी बहन ने घर जाकर पूरी बात बताई तो परिवार के लोग खेत पहुंचे। परिजनों ने खेत में आरोपी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। बच्ची के साथ रेप की सूचना मिलने पर डीआईजी विजय भूषण, एसपी रविशंकर छवि, एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह आदि ने मौके पर पहुंचकर घटनाक्रम की जानकारी ली। तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया। रौनापार थाना क्षेत्र की रहने वाली आठ वर्षीय बालिका अपनी 13 वर्षीय बहन के साथ सोमवार की दोपहर घर से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर खेत में बने मचान पर बैठकर मक्के की रखवाली कर रही थी। इसी बीच उधर से बगई चांदपट्टी गांव निवासी एहसान अपनी साइकिल से पहुंचा। वह गांव-गांव फेरी लगाकर सूप बेचने का काम करता है।

छोटी होने और तेजी से भाग न पाने के कारण उन दोनों बहनों को मचान पर देख एहसान ने अपनी साइकिल खड़ी की और मचान पर चढ़ने लगा। इस दौरान बड़ी बहन तो अपने आप को छुड़ाकर भाग गई। छोटी बहन को एहसान ने पकड़ लिया। वह उसको थोड़े दूर पर स्थित एक बाजरे के खेत में ले गया और रेप किया। सूचना मिलने पर गांव में पहुंचे एसओ रौनापार गिरिजेशबहादुर सिंह ने आरोपी एहसान को गिरफ्तार कर लिया है। रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। मामला दो अलग-अलग समुदाय का होने की वजह से गांव में तनाव बना हुआ है लेकिन कई लोग इसको मोहममद एहसान की दरिंदगी उसकी कट्टरपंथी सोच से जोड़ कर देख रहे हैं .. 

Share This Post