पद्मावती के विरोध में समाज का हर वर्ग, हर रूप में.. भाजपा नेता ने भंसाली का शीश उतारने वाले को 10 करोड़ का इनाम जारी किया..


पद्मावती फिल्म को लेकर जनता में काफी विरोध देखने को मिल रहा है जो की ठहरने का नाम नहीं ले रहा है। जिससे फिल्म की रिलीज़ होने की तारीख आगे बढ़ गई है। पद्मावती फिल्म की कहानी से लोगों के अंदर काफी आक्रोश बढ़ चूका है जिससे अब सरकार भी गहराई से सोच कर इस फिल्म पर कुछ ठोस कदम लेने की तैयारी में है। इसी फैसले के चलते भाजपा के नेता सूरज पाल अम्मू ने रविवार को एक ब्यान दिया जिसमे उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी से पद्मावती को लेकर निवेदन किया है कि इस फिल्म को बंद कराया जाए और कुछ ठोस कदम लिए जाए।

पद्मावती फिल्म को लेकर आक्रोश से अनुमान लगाया जा सकता है कि इस फिल्म से लोगों में काफी नाराज़गी है जिसको मद्दे नज़र रखते हुए भाजपा के नेता सूरज पाल अम्मू ने फिल्म को बंद कराने की मांग में इस्तीफा देने तक की बात कही है।

उनका कहना है कि इस फिल्म से लोगों की भावनाओं को काफी ठेस पहुंची है। सूरज पाल अम्मू ने कहा, ‘पीएम नरेन्द्र मोदी हों या राजनाथ सिंह उन्हें इस विवाद पर बोलना पड़ेगा मैं इस मामले पर चुप नहीं रहूंगा। अम्मू ने कहा कि फिल्म की रिलीज रुकवाने के लिए वे बीजेपी से त्यागपत्र देने को भी तैयार हैं”। इसके अलावा उन्होंने एक विवादित बयान देते हुए कहा कि,” अम्मू ने कहा कि हम दीपिका पादुकोण या भंसाली का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपये देंगे और उसके परिवार की देखरेख भी करेंगे.

इतना ही नहीं, अम्मू ने मेरठ के उस शख्स की तारीफ की जिसने दीपिका पादुकोण का सर काटने वाले को 5 करोड़ रुपय देने की घोषणा की थी। ”

बरेली में फिल्म को लेकर रविवार को हंगामा किया गया. फिल्म की हीरोइन दीपिका पादुकोण और निर्देशक संजय लीला भंसाली के 150 पुतलों का सामूहिक दहन किया गया. अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की युवा शाखा ने दीपिका को ”जिन्दा अग्नि कुंड में जलाने” वाले को एक करोड़ का इनाम देने की घोषणा भी की है। 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...