Breaking News:

महानगर नोयडा में भी मिला गौवंश का अवशेष तो उग्र हो गया धार्मिक समाज.. अब तक 5 हिरासत में


देशभर में लगातार बढ़ती जा रही गौतस्करी तथा गौहत्या की घटनाओं के बीच देश की राजधानी दिल्ली से सटा नॉएडा महानगर भी इसकी चपेट में आ गया. राष्ट्रीय राजधानी नॉएडा में सरेआम गाय को काटा गया जिसके बाद हिन्दू समाज सडकों पर उतर आया. खबर के मुताबिक़, नॉएडा के सेक्टर-110 गेझा गांव में बुधवार रात को खाली पड़े प्लॉट में गोवंश की हत्या कर उसके अवशेष पास के नाले में फेंक दिए गए. गुरुवार सुबह इसकी जानकारी होने पर लोगों ने हंगामा किया. मामले की सूचना पाकर एसपी सिटी के नेतृत्व में शहर के विभिन्न थानों की फोर्स मौके पर पहुंची और लोगों को समझा बुझाकर शांत किया. इसके बाद आसपास की मीट की दुकानें सील कर 8 लोगों पर केस दर्ज किया.

जानकारी के मुताबिक, गेझा गांव में रहने वाले अभिषेक त्यागी ने गुरुवार सुबह खाली प्लॉट पर गोवंश के अवशेष देखें.  उन्होंने इस बात की सूचना गांव के लोगों को दी. इसके बाद हिंदू युवा संगठन, विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के लोग मौके पर पहुंच गए और जमकर हंगामा किया. लोगों ने आरोप लगाया कि गांव के बाहर मीट की अवैध दुकानें चलाने वालों ने गोकशी की है. गुस्साए लोगों ने 5 मीट दुकानदारों को पकड़ लिया तथा उनके साथ हाथापाई शुरू कर दी. उन्हें पिटते देख बाकी दुकानदार वहां से भाग खड़े हुए. सूचना मिलने पर एसपी सिटी अरुण कुमार सिंह और सिटी मैजिस्ट्रेट शैलेष मिश्रा विभिन्न थानों की फोर्स लेकर पहुंचे. दोनों अफसरों ने सख्त कार्रवाई का आश्वासन देकर भीड़ को शांत करवाया. इसके बाद नाले में से अवशेष निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. सिटी मैजिस्ट्रेट ने अवैध रूप से चल रही मीट की दुकानों को भी सील करवा दिया.

थाना फेज टू के एसएचओ राजपाल सिंह तोमर ने बताया कि इस मामले में अभिषेक त्यागी की शिकायत पर मीट दुकानदार फरीद, मोहम्मद रिहान, मोइनुद्दीन, मोहम्मद राशिद, मोहम्मद दिलवार, मोहम्मद गुलाब गौंस, घूकराम और तीन अन्य के खिलाफ गोवंश अधिनियम के तहत केस दर्ज करके पांच आरोपितों को हिरासत में ले लिया गया है. एसपी सिटी नोएडा अरुण कुमार सिंह ने बताया कि गोवंश के अवशेष को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है. वहां से रिपोर्ट आने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी. गांव के बाहर मीट की अवैध दुकानें हटवाने के लिए अथॉरिटी को पत्र भेजा गया है. सीओ तृतीय श्वेताभ पांडे ने बताया कि पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. गौवंश के अवशेष मिले हैं. अब यह जांच का विषय है कि अवशेष पुराने हैं या नए. बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है और शांति बनाए रखने के लिए पुलिस-पीएसी तैनात की गई है. पूरे प्रकरण को लेकर जांच कराई जा रही है और प्रत्येक पहलू को लेकर गहनता से कार्य किया जा रहा है.  आरोपियों के खिलाफ गोहत्या निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराया गया है. आरोपियों के खिलाफ रासुका की कार्रवाई के लिए भी एसएसपी और जिलाधिकारी को रिपोर्ट दी जाएगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...